कानपुर देहात रेल हादसे में मृतकों की संख्या हुई 90

कानपुर..लखनउ, कानपुर देहात जिले के पुखराया में आज तड़के हुए इंदौर पटना एक्सप्रेस ट्रेन हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर 90 हो गयी है। दुर्घटना में डेढ़ सौ से अधिक लोग घायल हुए हैं।

कानपुर देहात के पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी ने भाषा को फोन पर बताया, ‘‘अब तक 90 शव निकाले जा चुके हैं। और भी शव दबे हो सकते हैं।’’ इंदौर पटना एक्सप्रेस ट्रेन के 14 डिब्बे आज तड़के लगभग तीन बजे कानपुर देहात जिले के पुखराया के पास पटरी से उतर गए। हादसे में ट्रेन के चार डिब्बे एस, एस2, एस3 और एस4 बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए। यात्री गहरी नींद में सो रहे थे और हादसा हो गया। तेज झटका लगने से उठे यात्रियों ने खुद को क्षतिग्रस्त हो डिब्बों में फंसा पाया।

कानपुर रेंज के आईजी जकी अहमद ने बताया ‘‘150 से अधिक घायलों को इलाके में आसपास के अस्पतालों में ले जाया गया। सभी अस्पतालों को अलर्ट रहने को कहा गया है। 30 से अधिक एंबुलेन्स घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए लगाई गई हैं।’’ सेना के डॉक्टर और बचाव अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। बचाव तथा राहत अभियान में 250 पुलिस अधिकारी भी लगे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेल हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना जाहिर की है।

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, ‘‘पटना-इंदौर एक्सप्रेस के पटरी से उतरने के कारण हुई मौतों को लेकर हो रहे दुख को शब्दों में बयां नहीं कर सकता। मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिवारों के साथ हैं।’’