करवा चौथ के दिन राशि के हिसाब से पहनें साड़ी, होगा शुभ

हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को करवा चौथ व्रत होता है। इस साल करवा चौथ 4 नवंबर को पड़ रहा है। इस दिन सुहागिनें अपने पति की लंबी आयु की कामना करते हुए निर्जला व्रत रखती हैं। शाम को पूजा और चांद को देखकर व्रत खोला जाता है।

व्रत रखने वाली स्त्रियां करवा चौथ के दिन सोलह श्रृंगार करती हैं। महिलाओं के लिए इस दिन लाल रंग के वस्त्र या साड़ी पहनना शुभ माना जाता है। ज्योतिषाचार्यों की मानें तो करवा चौथ पर व्रती स्त्रियों के राशि के हिसाब से भी वस्त्र धारण कर पूजन करने से उन्हें शुभ फल की प्राप्ति होती है। जानें अपने राशि के हिसाब से पहनें किस रंग की साड़ी।

मेष राशि – गहरा लाल रंग
वृष राशि – पीला रंग
मिथुन राशि – हरा रंग
कर्क राशि – गुलाबी रंग
सिंह राशि – लाल रंग
कन्या राशि – हरी धारियों वाला वस्त्र या साड़ी
तुला राशि – सफेद कढ़ाई वाली गुलाबी अथवा पीली साड़ी
वृश्चिक राशि – प्लेन साड़ी
धनु राशि – हल्के पीले रंग के आउटफिट
मकर राशि – कथई रंग का वस्त्र
कुम्भ राशि – मैरून रंग
मीन राशि – पीली साड़ी या आउटफिट

करवा चौथ: शुभ मुहूर्त

संध्या पूजा का शुभ मुहूर्त 4 नवंबर (बुधवार)- शाम 05 बजकर 34 मिनट से शाम 06 बजकर 52 मिनट तक। कहा जा रहा है कि चंद्रोदय शाम 7 बजकर 57 मिनट पर होगा।

 

Karwa Chauth 2020: व्रत सामग्री

चंदन, शहद, अगरबत्ती, पुष्प, कच्चा दूध, शक्कर, शुद्ध घी, दही, मिठाई, गंगाजल, अक्षत (चावल), सिंदूर, मेहंदी, महावर, कंघा, बिंदी, चुनरी, चूड़ी, बिछुआ, मिट्टी का टोंटीदार करवा व ढक्कन, दीपक, रुई, कपूर, गेहूं, शक्कर का बूरा, हल्दी, जल का लोटा, गौरी बनाने के लिए पीली मिट्टी, लकड़ी का आसन, चलनी, आठ पूरियों की अठावरी, हलुआ और दक्षिणा (दान) के लिए पैसे आदि।