अफगानिस्तान में उपराष्ट्रपति को निशाना बना कर बम से हमला, दो नागरिकों की मौत

काबुल,   अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में बुधवार को देश के पहले उप राष्ट्रपति के काफिले को निशाना बना कर किये गये बम हमले में कम से कम दो नागरिकों की मौत हो गयी जबकि कई अन्य घायल हो गये । हमले में उप राष्ट्रपति सुरक्षित हैं । अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी ।

अधिकारियों ने बताया कि अभी किसी संगठन ने तत्काल हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है और तालिबान ने हमले में भूमिका से इनकार किया है।

प्रवक्ता रजवान मुराद के अनुसार बम हमले में अफगानिस्तान के पहले उप राष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह के काफिले को निशाना बनाया गया ।

सालेह अफगानिस्तान के खुफिया प्रमुख रह चुके हैं । उन्होंने हमले के शीघ्र बाद टेलीवीजन पर बताया कि वह सुरक्षित हैं और वह मामूली रूप से जले हैं। टीवी फुटेज में उनके एक हाथ में बैंडेज लगा दिखा है।

मुराद ने कहा, ‘ खतरनाक आतंकवादी हमला विफल रहा और सालेह काबुल हमले में आज सुरक्षित बच गए।’ प्रवक्ता ने और अधिक जानकारी नहीं दी।

आंतरिक मामलों के मंत्रालय के प्रवक्ता तारिक अरियन ने एसोसिएटेड प्रेस से पुष्टि की है कि इस बम हमले में सालेह के काफिले को निशाना बनाया गया। उन्होंने बताया कि इस विस्फोट में कम से कम दो नागरिकों की मौत हो गई और अन्य घायल हैं।

उन्होंने बताया कि हमले के बाद क्षेत्र में भयानक आग लग गई। इस क्षेत्र में खाना बनाने और घरों को गर्म करने के लिए दुकानों में गैस सिलेंडर बेचे जाते हैं। उन्हें आशंका है कि मरनेवालों की संख्या बढ़ सकती है।

तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने हमले के तुरंत बाद इसमें संगठन भूमिका से इनकार किया।