कोविड-19 टीकों की पहली खेप दिल्ली पहुंची, हवाईअड्डे पर सुरक्षा बढ़ाई गई

नयी दिल्ली,   पुणे से कोविड-19 टीकों की पहली खेप के दिल्ली पहुंचने के मद्देनजर इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, क्योंकि यहीं से टीके शहर के विभिन्न हिस्सों में पहुंचाए जाएंगे।

देश में कोरोना वायरस के खिलाफ निर्णायक लड़ाई का आरंभ करते हुए 16 जनवरी को टीकाकरण मुहिम की शुरुआत से चार दिन पहले ‘स्पाइजेट’ का विमान टीकों के साथ सुबह करीब 10 बजे दिल्ली हवाईअड्डे पहुंचा। वह सुबह करीब आठ बजे पुणे हवाईअड्डे से रवाना हुआ था।

दिल्ली के पुलिस उपायुक्त (आईजीआई हवाईअड्डा) राजीव रंजन ने बताया कि पीसीआर वैन के साथ स्थानीय पुलिस कर्मी टीकों को निर्धारित स्थानों पर पहुंचाने वाले वाहनों की सुरक्षा में तैनात रहेंगे।

उन्होंने बताया कि टीकों को ले जाने के लिए सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं।

संयुक्त पुलिस आयुक्त (यातायात) मनीष अग्रवाल ने कहा, ‘‘ अगर टीकों के कार्यक्रम से जुड़ा कोई अन्य कार्यक्रम जारी किया गया और मदद की मांग की गई तो, हम उसे मुहैया कराएंगे।’’

दिल्ली यातायात पुलिस ने बताया कि हम टीके ले जा रहे वाहनों का सुचारू संचालन सुनिश्चित करेंगे।

पुलिस ने बताया कि ‘स्टोरेज’ स्थलों पर भी पर्याप्त पुलिस तैनात है और पीसीआर वैन वहां गश्त भी लगाती रहेगी।

उन्होंने बताया कि पुलिस नियंत्रण कक्ष को ‘कोल्ड स्टोरेज’ स्थल, टीकाकरण केन्द्रों से किसी भी तरह का फोन आने पर तुरंत कार्रवाई करने और तत्काल पीसीआर वैन, स्थानीय पुलिस, यातायात पुलिस तथा अन्य एजेंसी को इसकी जानकारी देने का निर्देश दिया गया है।

पुलिस उपायुक्त (शाहदरा) अमित शर्मा ने कहा, ‘‘ ‘राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल’ के ‘स्टोरेज’ स्थल पर भी हमने कर्मी तैनात किए हैं।’’