अफगानिस्तान के तस्करों के लिए एक नया बाजार बनकर उभर रहा है दक्षिण अफ्रीका

जोहानिसबर्ग, नौ नवम्बर (भाषा) अफगानिस्तान में मादक पदार्थों के तस्करों के लिए दक्षिण अफ्रीका एक नया बाजार बनकर उभर रहा है।

‘ग्लोबल इनिशिएटिव अगेंस्ट ट्रांसनेशनल ऑर्गनाइज्ड क्राइम’ (जीआई-टीओसी) की ताजा रिपोर्ट में यह दावा किया गया है।

मादक पदार्थ मामलों के विशेषज्ञों के अनुसार स्थानीय तस्करों का कहना है कि ये आयात सामग्री अफगानिस्तान की जगह पाकिस्तान से है।

जीआई-टीओसी में अवैध मादक पदार्थ बाजार मामलों के जानकार जैसन एलिघ ने ‘संडे टाइम्स’ को बताया कि संगठन ने शोध में इस बात पर गौर किया कि किस प्रकार से दक्षिणी और पूर्वी अफ्रीका विभिन्न प्रकार के मादक पदार्थों से प्रभावित हो रहा है।

एलिघ ने कहा, ‘‘ अपने शोध के जरिए हमने अफ्रीका और दक्षिण अफ्रीका में अपूर्ति के नए रास्तों का पता लगाया है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ कोमाटिपोर्ट (मोजाम्बे और दक्षिण अफ्रीका के बीच मुख्य सीमा चौकी) और मोजाम्बिक में (पोर्ट शहर) पेम्बा में मादक पदार्थों की जब्ती से इस नए मार्ग की पुष्टि भी हुई है।’’

जीआई-टीओसी कई देशों का एक संगठन है, जो संगठित अपराधों का विश्लेषण करने के लिए कानून प्रवर्तन एजेंसियों के साथ काम करता है।