इदलिब में विद्रोहियों पर रूस ने किया हवाई हमला, तुर्की ने की आलोचना

अंकारा,  । तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयब इरदुगान ने सीरिया के उत्तर-पश्चिमी इदलिब प्रांत में तुर्की समर्थित दर्जनों विद्रोहियों को हवाई हमले में मार गिराने पर रूस की आलोचना की है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, इरदुगान ने बुधवार को संसद में सांसदों को संबोधित करते हुए कहा, इदलिब क्षेत्र में सीरियाई राष्ट्रीय सेना बलों के प्रशिक्षण केंद्र पर रूस का हमला यह दिखाता है कि वह इस क्षेत्र में स्थायी शांति नहीं चाहता है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक. सोमवार को इदलिब में एक विरोधी सैन्य शिविर पर रूस ने हवाई हमला कर कम से कम 78 विद्रोहियों को रातोंरात मार दिया गया था। इस मामले में सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा है कि इस हमले में 90 विद्रोही घायल भी हुए हैं।

इरदुगान ने सीरिया की कुर्द पीपुल्स प्रोटेक्शन यूनिट्स (वाईपीजी) का उल्लेख करते हुए कहा कि यदि आतंकवादी सीरिया की सीमा से नहीं हटते हैं तो उनके पास फिर से कार्रवाई करने का वैध अधिकार है। बता दें कि तुर्की वाईपीजी समूह को गैरकानूनी कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी (पीकेके) की सीरियाई शाखा के रूप में देखता है। तुर्की ने पीकेके को संयुक्त राज्य अमेरिका और यूरोपीय संघ में आतंकवादी संगठन के रूप में सूचीबद्ध कराया है।