सोलरविंड्स साइबर हमले की जांच की जिम्मेदारी एनी नेउबर्गर को सौंपी गई: व्हाइट हाउस

वाशिंगटन,  अमेरिका सरकार एवं निजी कंपनियों पर हुए बड़े ‘सोलरविंड्स’ साइबर हमले के मद्देनजर हो रही आलोचनाओं के बीच व्हाइट हाउस ने बुधवार को बताया कि जो बाइडन के देश के राष्ट्रपति के रूप में कार्यभार संभालने के पहले दिन से ही साइबर एवं आपातकाल तकनीक की उप राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (डीएनएसए) एनी नेउबर्गर इस हमले के खिलाफ सरकार की कार्रवाई की अगुवाई कर रही हैं।

व्हाइट हाउस ने बताया कि नेउबर्गर हैक से हुए नुकसान को कम करने, संघीय सरकार की कार्रवाई संबंधी समस्याओं से निपटने और इस प्रकार की घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने संबंधी अध्ययन करने के प्रयासों की अगुवाई कर रही हैं।

खुफिया एवं कानून प्रवर्तन अधिकारी अमेरिका सरकार और निजी क्षेत्र को बड़ा नुकसान पहुंचाने वाले इस हमले की जांच कर रहे हैं। इस हमले के लिए रूस को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। अमेरिकी फर्म ‘सोलरविंड्स’ के सॉफ्टवेयर के जरिए किए गए इस हमले को दिसंबर में सार्वजनिक किया गया था, लेकिन ऐसा माना जाता है कि यह हमला एक साल पहले की शुरू हो गया था।

सीनेट की खुफिया मामलों की समिति के सदस्यों ने मंगलवार को जारी पत्र में ‘सोलरविंड्स’ हैक के खिलाफ ‘असंगठित’ रवैया अपनाने को लेकर बाइडन प्रशासन की निंदा की थी और उससे एक ऐसे नेता को नामित करने की अपील की थी जो इस हमले के खिलाफ कार्रवाई का नेतृत्व कर सके।

इसके बाद, व्हाइट हाउस ने बाइडन प्रशासन के पहले दिन से नेउबर्गर की भूमिका के बारे में बताया।

राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की प्रवक्ता एमिली होर्ने ने कहा, ‘‘बाइडन प्रशासन के शुरुआती सप्ताह में डीएनएसए नेउबर्गर ने खासकर सोलरविंड्स और व्यापक रूप से हमारी साइबर सुरक्षा रणनीति संबंधी रुख को लेकर डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन सांसदों से विचार-विमर्श किया था। हम इन मामलों पर संसद के साथ मिलकर काम करना जारी रखेंगे।’’