वन चैम्पियनशिप (एमएमए) : बड़े और रोमांचक फाइट्स के लिए तैयार है 2021

नई दिल्ली,  । मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स (एमएमए) के सबसे बड़े वैश्विक आयोजन-वन चैम्पियनशिप के तहत साल 2021 में कुछ रोमांचक मुकाबले हो चुके हैं लेकिन अभी कई और बड़े फाइट्स होने हैं। ऐसे में दुनिया भर में फैले इस मार्शल आटर्स संगठन के करोड़ों फैन्स को आने वाले मुकाबलों का बसब्री से इंतजार है।

बीते सालों की तरह इस साल भी वन चैम्पियनशिप अपनी श्रेष्ठ प्रतिभाओं को श्रेष्ठ विपक्षी खिलाड़ियों के सामने खड़ा करता रहेगा। इस साल कुछ बड़े ब्लॉकबस्टर मुकाबले होने हैं। इस सिलसिले में कुछ मैच कन्फर्म हो चुके हैं।

पेश है वन चैम्पियनशिप के वे सबसे बड़े मुकाबले जिनका 2021 में इसके फैन्स को बेसब्री से इंतजार है।

1. ब्रैंडन द ट्रूथ वेरा बनाम अर्जन सिंह भुल्लर

राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीत चुके पूर्व यूएफसी स्टार अर्जन सिंह भुल्लर जल्द ही स*++++++++++++++++++++++++++++र्*ल में वन हेवीवेट वल्र्ड चैंपियन ब्रैंडन द ट्रुथ वेरा से भिड़ेंगे।

 

इस बहुप्रतिक्षित मुकाबले की तारीख हालांकि अभी तय नहीं हुई है लेकिन जल्द ही इसकी घोषणा होने की उम्मीद है। फिलीपींस और अमेरिका की दोहरी नागरिकता रखने वाले 43 साल के ब्रैंडन वेरा ने हाल ही में फिलीपींस में आयोजित एक साक्षात्कार में अपनी वापसी का ऐलान किया था।

भुल्लर ने अक्टूबर 2019 में वन में डेब्यू करते हुए पूर्व वन वल्र्ड टाइटिल चैलेंजर माउरो द हैमर सेरिली को हराकर ब्रेंडन वेरा के साथ भिड़ंत के लिए योग्यता हासिल की थी।

अगर भुल्लर वेरा को हरा देते हैं तो वह एक प्रमुख संगठन में पहले भारतीय मिश्रित मार्शल आटर्स विश्व चैंपियन बन जाएंगे।

2. अनस्टॉपेबल एंजेला ली बनाम डेनिस द मेनेस जाम्बोआंगा

वन विमेन एटमवेट वलर्ड चैम्पियन अनस्टॉपेबल एंजेला ली और डेनिस द मेनेस जाम्बोआंगा के बीच की प्रतिद्वंदिता पिछले साल उस समय उफान पर आई थी जब ली ने घोषणा की थी कि वह अपने पहले बच्चे के साथ गर्भवती थीं लेकिन जाम्बोआंगा ने यह कहा था कि एसे में तो ली को बिना लड़े ही अपना विश्व खिताब उन्हें सौंप देना चाहिए।

बेशक, ली ने ऐसा करने से इनकार कर दिया। सोशल मीडिया के माध्यम से दोनों के बीच वाकयुद्ध चला और इसी कारण महिलाओं का यह मिश्रित मार्शल आटर्स मुकाबला अधिक चर्चा में आ गया।

ली जैसे ही अपने पहले बच्चे को जन्म देंगी, जाम्बोआंगा उनके साथ प्रतिस्पर्धा करते हुए उन पर हावी होने का प्रयास करेंगी। इन दोनों का सामना वन एटमवेट वलर्ड ग्रां प्री में होगा और इसी के माध्यम से एटमवेट एटमवेट सिंहासन पर काबिज होने वाली नम्बर-1 फाइटर का भी फैसला हो जाएगा।

3. क्रिश्चियन ली बनाम एडी अल्वारेज

इसमें कोई शक नहीं है कि 22 वर्षीय वन लाइटवेट वल्र्ड चैंपियन क्रिश्चियन द वॉरियर ली एक प्रतिभाशाली फाइटर हैं। शिन्या अओकी, सईगिड गुसेन अर्सलानलाइव और इयूरी लापिकस पर विजय ने साबित किया है कि आने वाले समय उनका है।

पिछली तमाम सफलताओं के बाद अब ली को पूर्व यूएफसी और बेल्टर लाइटवेट चैंपियन एडी द अंडरग्राउंड किंग अल्वारेज का सामना करना पड़ रहा है। यह काफी बड़ा मुकाबला है और फैन्स इसका बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

अल्वारेज 7 अप्रैल को लैपिकस का सामना करने जा रहे हैं और यदि वह पूर्व वन वल्र्ड टाइटल चैलेंजर को हरा देते हैं तो उम्मीद है कि लाइवेट खिताब हासिल कर लेंगे। ली 14 अप्रैल को टिमोफेई नस्सुखिन के खिलाफ अपने खिताब की रक्षा करेंगे। यदि वह सफलतापूर्वक खिताब का बचाव कर लेते हैं तो इस साल के अंत तक जाते-जाते ली बनाम अल्वारेज के बीच होने वाले मुकाबले के लिए स्टेज तैयार हो जाएगा।

4) थान ले बनाम गैरी टोनोन

जब आपके कंधों के ऊपर चमकदार सोने की बेल्ट हो तो कई नाम आपके पीछे लग जाते हैं। नए-नवेले वन फेदरवेट वल्र्ड चैंपियन थान ले के साथ भी एसा ही कुछ हुआ है। वियतनाम में जन्मे और अमेरिकी नागरिकता प्राप्त थान ले ने पिछले साल के अंत में पूर्व टाइटिल होल्डर मार्टिन गुयेन के खिलाफ जबरदस्त प्रदर्शन के बाद फेदरवेट पट्टा हासिल किया था। तीसरे दौर की नाकआउट जीत वन चैम्पियनशिप 2020 की सर्वश्रेष्ठ जीत थी।

थान ले के रास्ते पर ही ग्रैपलिंग आइकन गैरी द लॉयन किलर टोनोन भी चल पड़े हैं। टोनोन ने हाल ही में अपने सबसे कठिन प्रतिद्वंद्वी पूर्व वन वल्र्ड टाइटल चैलेंजर कोओमी मत्सुशिमा के खिलाफ तीन राउंड चले मुकाबले के बाद एकतरफा जीत हासिल की थी। टोनोन के खाते में वर्तमान में छह जीत हैं।

खिताब शीर्षक के लिए चुनौती देने का अधिकार हासिल करने के लिए टोनोन को पहले गुयेन का सामना करना पड़ सकता है, एसे में द लॉयन किलर यह मानते हैं कि वह वन चैम्पियनशिप गोल्ड जीत सकते हैं।

5) विटर बेल्फर्ट का वन डेब्यू

यूएफसी के लीजेंड विटर द फिनोम बेलफोर्ट 2019 में वन चैम्पियनशिप से जुड़े। हालांकि, उन्होंने लगभग दो साल पहले स*++++++++++++++++++++++++++++र्*ल में उतरने की घोषणा कर दी थी लेकिन वह अब तक सर्कल के अंदर पैर नहीं रख सके हैं।

हॉन्गकॉन्ग के एलेन द पैंथर नगालानी को बेलफोर्ट को वन चैंपियनशिप स*++++++++++++++++++++++++++++र्*ल में बेलफोर्ट का स्वागत करने का मौका मिलने वाला है। नगालानी ने कहा कि बेलफोर्ट के साथ होने वाली भिड़ंत 2020 में होनी थी लेकिन विभिन्न कारकों के कारण इसे और आगे बढ़ा दिया गया।

बेशक, कोविड-19 महामारी और इसके व्यापक प्रभाव के कारण इस मुकाबले के प्रोमोशन की शुरूआत में देरी हो रही है। यह लाजिमी है। फिर भी, प्रशंसक द फिनोम को जल्द से जल्द स*++++++++++++++++++++++++++++र्*ल में देखने के लिए उतावले हैं।

इस साल बेलफोर्ट को वन चैंपियनशिप में डेब्यू करना है। इसलिए प्रशंसकों को अब और इंतजार नहीं करना पड़ेगा। 43 वर्ष की आयु में, बेलफोर्ट भी अब और इंतजार नहीं करना चाहते होंगे।

6. वन एटमवेट वल्र्ड ग्रां प्री में रितु फोगाट

और अब कॉमनवेल्थ रेसलिंग गोल्ड मेडलिस्ट भारत की रितु फोगाट की चर्चा सबसे अंत में। एटमवेट वल्र्ड ग्रांड प्रिक्स में रितु का प्रवेश बहुत ज्यादा चर्चा में रहा।

जब मौजूदा एटमवेट क्वीन एंजेला ली ने पिछले साल अपने गर्भवती होने की घोषणा की, तो वन चैंपियनशिप के चेयरमैन और सीईओ चैत्री सिओतोडॉन्ग ने बना देरी किए ली को चुनौती देने वाली खिलाड़ी की पहचान के लिए आठ-महिलाओं वाले एक टूर्नामेंट के आयोजन की घोषणा कर दी।

शीर्ष-5 में शामिल डेनिस जाम्बोआंगा, मेंग बो, लिन हेकिन, मेई यामागुची और स्टैम्प फेयरटेक्स इस टूर्नामेंट का हिस्सा हैं। इसके अलावा मुट्ठी भर एसे भी दावेदार थीं, जो इस मौके की तलाश में थीं और इनमें से ही एक अब तक अपराजित रितु हैं।

फोगाट 4 मैचों से अपराजित हैं। उनके नाम पर तीन नॉकआउट हैं। और वह हर एक मुकाबले के साथ बेहतर हो रही हैं। क्या हम उन्हें ग्रैंड प्रिक्स में देख सकेंगे? यह तो केवल समय ही बताएगा।