अफगानिस्तान में 24 घंटे में 30 से ज्यादा लोग मारे गए

काबुल,  । युद्धग्रस्त अफगानिस्तान में आतंकवाद और संघर्ष बढ़ गया है। पिछले 24 घंटों में 30 से अधिक लोग मारे गए हैं। ये ऐसे समय में हो रहा है जब देश के संकट के समाधान के लिए शांति वार्ता प्रयासों में तेजी आई है।

नवीनतम हिंसक घटनाओं में, शनिवार सुबह उरुजगान प्रांत में एक मिनी बस सड़क किनारे रखे बम की चपेट में आ गई जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई और चार अन्य लोग घायल हो गए। ये सभी नागरिक हैं। प्रांतीय सरकार ने एक बयान में घटना की पुष्टि की।

इसी तरह, शुक्रवार रात हेरात शहर में विस्फोटकों से भरी एक कार को उड़ा दिया गया, जिसमें एक पुलिसकर्मी सहित आठ लोगों की मौत हो गई, और 54 अन्य घायल हो गए।

पुलिस ने कहा कि महिलाओं और बच्चों सहित तीन और नागरिकों की मौत उस समय हो गई जब शुक्रवार को जबुल की प्रांतीय राजधानी कलात के बाहर नूरक गांव में एक रिहायशी इलाके में विद्रोहियों ने मोर्टार से गोले दागे।

न तो तालिबान और न ही इस्लामिक स्टेट आतंकवादी समूह ने हमले की जिम्मेदारी ली है।

अफगानिस्तान में युद्ध को समाप्त करने और देश में शांति लाने के लिए त्वरित शांति प्रयासों के बीच लड़ाई में वृद्धि हो रही है।