लंदन परिवहन ने ओला को नया लाइसेंस देने से इनकार किया

नयी दिल्ली,   ट्रांसपोर्ट फॉर लंदन (टीएफएल) ने टैक्सी सुविधायें देने वाली कंपनी ओला को नया परिचालन लाइसेंस देने से इनकार कर दिया। कंपनी के कामकाज में कई तरह की खामियां सामने आने के बाद जन सुरक्षा को होने वाले जोखिम को देखते हुये यह निर्णय लिया गया। हालांकि, कंपनी ने कहा है कि वह इस फैसले को चुनौती देगी।

लंदन के परिवहन नियामक टीएफएल ने एक वक्तव्य में कहा है कि उसने ओला को लंदन में निजी टैक्सी सेवायें देने से इनकार किया है। कंपनी को इसके लिये उपयुक्त नहीं पाया गया है। कंपनी के कामकाज में कई तरह की कमियां पाई गई है जो कि जन सुरक्षा को जोखिम में डाल सकती हैं।

ओला ने ब्रिटेन की राजधानी लंदन में इस साल फरवरी में ही परिचालन शुरू किया है। उसके पास टीएफएल के फैसले को चुनौती देने के लिये 21 दिन का समय है। अपील प्रक्रिया का निर्णय आने तक कंपनी परिचालन जारी रख सकती है।

ओला ब्रिटेन के प्रबंध निदेशक मार्क रोजेंडल ने पीटीआई- भाषा को जारी एक वक्तव्य में कहा कि ‘‘कंपनी उसकी समीक्षा के दौरान टीएफएल के साथ काम करती रही है, जो भी मुद्दे उठाये गये उन्हें खुले और पारदर्शी तरीके से दूर किया गया।’’

उन्होंने कहा कि ओला इस फैसले को चुनौती देने के अवसर का लाभ उठायेगी और ऐसा करते हुये वह अपने ग्राहकों और चालकों को यह आश्वासन देती है कि कंपनी सामान्य ढंग से काम करती रहेगी और लंदन में सुरक्षित और भरोसेमंद परिवहन सुविधा उपलब्ध कराती रहेगी।