दिल्ली में अब फिर से नहीं होगा लॉकडाउन : सत्येंद्र जैन

नई दिल्ली,   दिल्ली सरकार की दोबारा लॉकडाउन लागू करने की कोई योजना नहीं है। दिल्ली के सभी बाजार सामान्य दिनों की तरह खुले रहेंगे। बाजारों के अलावा सरकारी और प्राइवेट दफ्तर भी नियमित रूप से अपना काम करते रहेंगे।

दिल्ली सरकार ने स्पष्ट किया है कि दोबारा से लॉकडाउन नहीं होगा। कई लोग लॉकडाउन दोबारा लगाए जाने की अटकलें लगा रहे हैं, लेकिन इस तरह की कोई योजना नहीं है।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने सोमवार को कहा, दिल्ली में फिर से कोई लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। मुझे नहीं लगता लॉकडाउन करने की कोई आवश्यकता है।

इससे पहले दिल्ली के व्यापारियों ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एक अहम बैठक की। इस बैठक में निर्णय लिया गया कि दिल्ली के सभी बाजार खुले रहेंगे।

ट्रेडर्स एसोसिएशन्स के तेजपाल गोयल ने कहा, सभी व्यापारी दिल्ली में बाजार खुले रखने के पक्ष में हैं। दिल्ली में व्यापार की स्थिति पहले से ही खराब है। बड़ी मुश्किल से लेबर वापस मिली है। दोबारा बाजार बंद हुए तो श्रमिक अपने अपने गांव लौट जाएंगे। व्यापारी भाइयों से अनुरोध है कि अफवाहों पर ध्यान न दें। कोई बाजार बंद होने नहीं जा रहा है।

वहीं रविवार शाम मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, दिल्ली में दैनिक कोविड-19 परीक्षणों की संख्या बढ़ाकर 1 लाख से 1.25 लाख की जाएगी। केंद्र ने 750 आईसीयू बेड का आश्वासन दिया है जिन्हें डीआरडीओ केंद्र में उपलब्ध कराया जाएगा।

सीएम केजरीवाल ने कहा, गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कोविड की महामारी की स्थिति पर एक आपात बैठक बुलाई। इस बैठक के बाद हमें आश्वासन मिला है कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों की सभी एजेंसियां मिलकर काम करेंगी। मैं गृह मंत्री अमित शाह को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं।

उन्होंने कहा, दिल्ली के नागरिकों के जीवन को बचाने के लिए और नागरिकों के स्वास्थ्य के लिए यह समय है जब सरकारों को एक साथ काम करना चाहिए। अभी हम जिस प्रमुख समस्या का सामना कर रहे हैं, वह दिल्ली में आईसीयू बेड की संख्या के बारे में है। 20 अक्टूबर के बाद दिल्ली में कोविड के मामलों की संख्या बहुत अधिक दर से बढ़ रही है। अभी हमारे पास दिल्ली में पर्याप्त मात्रा में कोविड बेड हैं, लेकिन कमी आईसीयू बेड की है।

दिल्ली के सीएम ने कहा, केंद्र सरकार ने स्थिति को देखते हुए आश्वासन दिया है कि डीआरडीओ केंद्र में वे 750 आईसीयू बेड उपलब्ध कराएंगे। 250 बिस्तर सोमवार को उपलब्ध कराए जाएंगे, इसके बाद मंगलवार को 250 और बुधवार को 250 शेष बेड उपलब्ध कराए जाएंगे ।