जीवन मकड़ी के जाल बनाने जैसा है: एथन हॉक

नई दिल्ली,   हॉलीवुड स्टार एथन हॉक ने जिंदगी की तुलना मकड़ी के जाल के निर्माण से की है। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रत्येक क्षण, सफलता और चुनौतियां एक-दूसरे से खूबसूरती से जुड़ी होती हैं।

हॉक ने एक विशेष साक्षात्कार में बाल कलाकार से एक स्टार तक की अपनी यात्रा को लेकर आईएएनएस को बताया, “जीवन एक मकड़ी के जाले के निर्माण की तरह है। आप एक कोने से दूसरे कोने तक कूदते रहते हैं।”

 

उन्होंने आगे कहा, “छोटी यात्रा (उस पल में) तत्काल महत्वपूर्ण नहीं लगती है, लेकिन जब आप पीछे मुड़कर देखते हैं और जब हम पूरी यात्रा को देखते हैं, तो आपको समझ आता है कि वे सभी एक-दूसरे से कैसे जुड़े हैं। यह बहुत सुंदर हो सकता है।”

हॉक ने आगे कहा, “वह भाग जो सबसे अधिक चुनौतीपूर्ण था, (जो आपने सोचा था कि सबसे कठिन थे), वे वही हिस्सा थे जहां सबसे अधिक विकास हुआ। मैं अपने शिल्प और अपने पेशे के लिए बहुत आभारी हूं, क्योंकि यह आपको सभी प्रकार के लोगों से मिलने का मौका देता है।”

उन्होंने आगे कहा, “मैंने दुनिया भर के निर्देशकों के साथ, कई अलग-अलग भाषाओं में और कई अलग-अलग नजरियों के साथ काम किया है। मैंने ऐसे किरदार निभाए हैं जो मुझे और मेरी कल्पना को गहराई तक ले जाते हैं, चाहे वह विश्व युद्ध 2 के सैनिक या जाज संगीतकार या रूसी कम्युनिस्ट की भूमिका निभाना रहा हो, या फिर ऐसे कई चरित्र जो मेरी शिक्षा का विस्तार करते हों। मैं इसके लिए बहुत आभारी हूं।”

हॉक का कहना है कि वह उन परियोजनाओं में तल्लीन होना पसंद करते हैं जो जुनूनी होते हैं।