इंडोनेशिया ने दुर्घटनाग्रस्त विमान का मलबा, शवों की तलाश के लिए अभियान तेज किया

जकार्ता,   इंडोनेशिया में पिछले सप्ताह जावा सागर में विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद मलबा और शवों की तलाश के कार्य में जुटे दल में शुक्रवार को कुछ और कर्मी जुड़ गए।

राष्ट्रीय खोज और बचाव एजेंसी मिशन के संयोजक रासमन ने बताया कि दुर्घटना का शिकार हुए श्रीविजय एयर के विमान की तलाश के लिए हवाई सर्वेक्षण का दायरा भी बढ़ा दिया गया है।

विमान का मलबा और दुर्घटना में मारे गए लोगों की तलाश के काम में 4,132 कर्मी जुटे हुए हैं। कुल 14 विमानों, 62 जहाजों और 21 नौकाओं के जरिए यह अभियान चलाया जा रहा है। पानी के भीतर मेटल डिटेक्टर का भी इस्तेमाल किया जा रहा। शवों की तलाश के लिए कुछ उपकरणों की भी मदद ली जा रही है।

राष्ट्रीय पुलिस के प्रवक्ता रूसदी हर्टोनो ने बताया कि विमान में सवार हुए 62 लोगों के परिवारों के डीएनए नमूने लिए जा रहे हैं ताकि मृतकों की पहचान हो सके। उन्होंने कहा कि हादसे का शिकार हुए 12 लोगों की बृहस्पतिवार को पहचान की गयी।

इंडोनेशिया की राष्ट्रीय परिवहन सुरक्षा कमेटी ने कहा है कि भारी बारिश के बीच जकार्ता से उड़ान भरने के बाद समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त होने से पहले विमान के चालक दल के सदस्यों ने आपात स्थिति की घोषणा नहीं की थी या किसी तकनीकी गड़बड़ी के बारे में नहीं बताया। मामले में एजेंसियां कई पहलुओं से जांच कर रही है।