विश्व के लिए बेहतरीन उदाहरण है भारत-भूटान का संबंध : पीएम मोदी

नई दिल्ली,  । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भूटान के प्रधानमंत्री डॉ. लोटे शेरिंग ने संयुक्त रूप से शुक्रवार को एक वर्चुअल समारोह में भूटान में रुपे कार्ड के दूसरे चरण का शुभारंभ किया। अगस्त 2019 में प्रधानमंत्री मोदी की राजकीय यात्रा के दौरान भारत और भूटान के प्रधानमंत्रियों ने संयुक्त रूप से इस परियोजना के पहले चरण का शुभारंभ किया था।

प्रधानमंत्री मोदी ने रुपे कार्ड के दूसरे चरण का शुभारंभ करते हुए कहा, सभी भारतीयों की तरह मेरे मन में भी भूटान के लिए विशेष प्यार और मित्रता है। जब भी आपसे मिलता हूं तो एक खास अपनेपन की अनुभूति होती है। भारत और भूटान के विशिष्ट संबंध न सिर्फ दोनों राष्ट्रों के लिए अहम हैं, बल्कि विश्व के बेहतरीन उदाहरण है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, मुझे यह जानकर खुशी हुई कि भूटान में पहले ही रुपे के 11,000 सफल लेनदेन हो चुके हैं। अगर कोविड-19 नहीं हुआ होता, तो यह संख्या बहुत अधिक होती। हम रुपे कार्ड योजना के दूसरे चरण का शुभारंभ कर रहे हैं।

बता दें कि रुपे कार्ड के पहले चरण के क्रियान्वयन ने पूरे भूटान में एटीएम और प्वाइंट ऑफ सेल (पीओएस) तक भारतीय आगंतुकों की पहुंच को सुगम बनाया है। अब इसका दूसरा चरण भूटानी कार्डधारकों को भारत में रुपे नेटवर्क का उपयोग करने में समर्थ बनाएगा। भारत और भूटान के बीच एक विशेष साझेदारी है जो आपसी समझ एवं सम्मान से प्रेरित, साझा सांस्कृतिक विरासत और लोगों से लोगों के बीच मजबूत संबंध से समृद्ध है।