सूडान में भारी बारिश और बाढ़ से कई घर बर्बाद, बांध टूटा

काहिरा,   सूडान के ब्लू नाइल प्रांत में सैकड़ों घरों के बाढ़ की चपेट में आने के बाद महिलाओं और बच्चों को भारी बारिश के बीच खुले में सोने पर मजबूर होना पड़ रहा है। यहां न उनके पास आश्रय है और न ही साफ पानी।

सूडानी रेड क्रेसेंट ने कहा कि 1,00,000 लोगों की आबादी वाल बाउट कस्बा पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश और बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित है जहां कम से कम 1,200 घर बर्बाद हो गए। वहीं, बगल के वेड अबुक नगर में भी 120 से अधिक घर तबाह हो गए।

यहां के निवासी मुसाब शरीफ के मुताबिक क्षेत्र में ज्यादातर लोग इलाके में ही विस्थापित हुए हैं। हर साल आने वाली बाढ़ के प्रति संवेदनशील ये लोग कृषि पर जीविका के लिए निर्भर हैं।

उसने कहा कि सैकड़ों परिवार शनिवार देर रात से ही बारिश के बीच खुले में सोने पर मजबूर हैं।

स्थानीय अधिकारी नौसेबा फारुक कलोल ने बताया कि भारी बारिश के कारण बाउट बांध भी टूट गया। उन्होंने बताया कि कम से कम 600 परिवार बारिश और बांध टूटने की वजह से फंसे हुए हैं।

उन्होंने कहा, “वे पानी से घिरे हुए हैं। उन परिवारों तक पहुंच नहीं बन पा रही है क्योंकि बाढ़ के पानी ने इलाके को तीनों दिशाओं से घेरा हुआ है।”

कलोल ने बाउट में बड़े पैमाने पर विस्थापन होने को लेकर आगाह किया है। ऑनलाइन प्रसारित हो रहे फुटेज में बाढ़ का पानी सड़कों को डुबाता हुआ और घरों एवं लोगों के सामान को बहाकर ले जाता हुआ दिख रहा है। कृषि भूमि का बड़ा हिस्सा भी बाढ़ की चपेट में आ गया है।

सरकारी समाचार एजेंसी सूना ने रविवार को खबर दी कि खार्तोम में बाढ़ के कारण पूर्वी नाइल इलाके में 180 से ज्यादा घर जलमग्न हो गए।

हालांकि, किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।