गुटेरेस ने महिलाओं की समान भागीदारी पर की बात

संयुक्त राष्ट्र,  । संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने दुनिया भर के लीडर्स से इस बात की अपील की है कि वह समाज में महिलाओं की समान भागीदारी को और अधिक बढ़ाएं।

गुटेरेस ने सोमवार को महिलाओं की स्थिति पर आयोग के 65वें सत्र के उद्घाटन पर कहा, कोविड-19 से उबरने की यह अवधि हमारे लिए एक मौका है कि हम पुरूष एवं महिला दोनों के समान भविष्य के लिए एक रास्ते का निर्धारण करें।

गुटेरेस ने वैश्विक नेताओं से पांच मुख्य बिंदुओं का निर्धारण करने को कहा है : भेदभावपूर्ण कानूनों को निरस्त कर और सकारात्मक उपायों को लागू करते हुए महिलाओं के समान अधिकारों की सुनिश्चितता, कोटा सहित विशेष उपायों के माध्यम से दोनों का समान प्रतिनिधित्व सुनिश्चित करना, अर्थव्यवस्था और सामाजिक सुरक्षा की बात को ध्यान में रखते हुए समान वेतन, समान ऋण, समान नौकरी और महत्वपूर्ण निवेश के माध्यम से महिलाओं के आर्थिक समावेशन को आगे बढ़ाना, महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ हिंसा को दूर करने के लिए प्रत्येक देश में एक आपातकालीन प्रतिक्रिया योजना को लागू करना और फंडिंग, नीतियों और राजनीतिक इच्छाशक्ति का अनुसरण करना, दोनों को समान दृष्टि से देखना।

महासचिव के बयान के हवाले से सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में बताया, महिलाओं की समान भागीदारी एक ऐसा बदलाव है, जिसकी हमें जरूरत है। ऐसे कई उदाहरण हैं जिनसे पता चलता है कि महिलाओं की भागीदारी से आर्थिक क्षेत्र, सामाजिक संरक्षण, जलवायु में सुधार आया है।