सरकार ने रद्द किए 3 करोड़ से ज्यादा राशन कार्ड, कहीं आपका भी तो नहीं हुआ कैंसिल, इस तरह करें पता

देश के अलग-अलग राज्यों में सरकार ने तीन करोड़ से ज्यादा राशन कार्ड रद्द कर दिए हैं, क्योंकि वह आधार से लिंक नहीं थे. राशन दुकानदार ऐसे लोगों को राशन देने से भी मना कर देते हैं जिनका राशन कार्ड आधार से लिंक ना हो. हालांकि यह मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है और कोर्ट ने भारत सरकार से इस मसले पर जवाब तलब किया है.

हालांकि भारत सरकार ने कोर्ट में इस मुद्दे पर अपना पक्ष रखा और कहा कि याचिका में जो आरोप लगाए गए हैं, वह निराधार हैं. राशन कार्ड इसलिए कैंसिल नहीं हो रहे क्योंकि उनसे आधार कार्ड नहीं जुड़ा है. केंद्र सरकार के वकील ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि यह स्पष्ट दिशा निर्देश है कि अगर राशन कार्ड आधार के साथ जुड़ा नहीं भी होता है तो किसी का राशन नहीं रोक सकते.

याचिका में यह कहा गया कि भारत सरकार के आंकड़े बताते हैं कि तीन लाख राशन कार्ड कैंसिल हुए हैं. लेकिन सरकार के मुताबिक, इन राशन कार्ड के कैंसिल होने की असली वजह कुछ और ही है. बता दें कि देश में लगभग 80 करोड़ लोग राशन कार्ड होल्डर है.

अगर आपका राशन कार्ड आधार से लिंक नहीं है तो आप इसे ऑफलाइन और ऑनलाइन तरीके से लिंक कर सकते हैं. अगर आपका राशन कार्ड नहीं है तो आप नया राशन कार्ड बनवा सकते हैं. आप पीडीएस विभाग में जाकर यह पता कर सकते हैं कि आपका राशन कार्ड कहीं कैंसिल तो नहीं हो गया है. राशन दुकानदार भी आपको इसके बारे में जानकारी दे देगा.