अब ‘बेहतर महसूस’ कर रहे हैं बच्चन पिता-पुत्र : अस्पताल

मुंबई,   नानावती अस्पताल के गहन देखभाल सेवा विभाग के निदेशक डॉ. अब्दुल समद अंसारी ने रविवार को बताया कि मेगास्टार अमिताभ बच्चन और उनके बेटे अभिषेक बच्चन अब ‘‘बेहतर महसूस’’ कर रहे हैं।

बच्चन पिता-पुत्र ने शनिवार को ट्वीट किया था कि वे कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं और अस्पताल के पृथक वार्ड में भर्ती हैं।

अमिताभ (77) ने ट्वीट किया, ‘‘जांच में मुझमें कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। अस्पताल में भर्ती हो गया हूं। अस्पताल अधिकारियों को सूचना दे रहा है। परिजनों और स्टाफ की भी जांच करा ली गई है। उनकी रिपोर्ट का इंतजार है।’’

अमिताभ के ट्वीट के बाद अभिषेक (44) ने भी ट्वीट किया।

अभिषेक बच्चन ने लिखा, ‘‘आज मेरे पिता और मुझमें कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। हम दोनों में हल्के लक्षण हैं और हमें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हमने सभी जरूरी अधिकारियों को सूचित कर दिया है और हमारे परिवार तथा सभी स्टाफ सदस्यों की जांच की जा रही है। मैं सभी से शांत रहने और न घबराने का अनुरोध करता हूं। शुक्रिया।’’

अंसारी ने रविवार को बताया कि दोनों अभिनेताओं की हालत ‘‘स्थिर’’ है।

उन्होंने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘अमिताभ बच्चन और अभिषेक दोनों बेहतर महसूस कर रहे हैं। दोनों ने अच्छी नींद ली और नाश्ता किया। उनकी हालत स्थिर है।’’

शनिवार रात ट्वीट कर अभिषेक ने कहा था कि परिवार बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के संपर्क में है और वे उनके नियमों का पालन कर रहे हैं।

रविवार को नगर निकाय की एक टीम संक्रमणमुक्ति और संपर्क में आए लोगों का पता लगाने के लिए बच्चन परिवार के बंगलों ‘जनक, जलसा और प्रतीक्षा’ में गई।

बीएमसी के एक सूत्र ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘बीमएसी की एक टीम सैनिटाइजेशन और संपर्क में आए लोगों का पता लगाने के लिए अमिताभ बच्चन के बंगलों – जनक, जलसा और प्रतीक्षा में मौजूद है।’’

इससे पहले महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि जया बच्चन और ऐश्वर्या राय बच्चन समेत पूरे बच्चन परिवार ने कोविड-19 की जांच कराई है।

उन्होंने कहा, ‘‘जया जी और ऐश्वर्या जी समेत परिवार के अन्य सदस्यों की जांच की गई है। उनकी रिपोर्ट अभी नहीं आई है।’’

बीएमसी के अनुसार शनिवार को मुंबई में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 91,457 हो गए। मुंबई में 22,779 लोग अब भी संक्रमित हैं और 50 दिनों में संक्रमण के मामलों की संख्या दोगुनी हो रही है।