उइगर मुस्लिमों के खिलाफ जनसंहार के मुद्दे पर चीन के साथ सीधे बातचीत करेगा अमेरिका

वाशिंगटन,  अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने बृहस्पतिवार को कहा कि अमेरिका चीन के साथ उइगर मुस्लिमों के खिलाफ जनसंहार के मुद्दे पर सीधे बातचीत करेगा।

बाइडन प्रशासन ने कहा कि चतुष्पक्षीय गठबंधन (क्वाड) शिखर सम्मेलन में कई वैश्विक मुद्दों पर बातचीत होने की संभावना है।

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘ उइगर मुस्लिमों के खिलाफ जनसंहार का मुद्दा चर्चा का एक विषय होगा जिस पर न सिर्फ चीन के साथ अगले सप्ताह सीधी बातचीत की जाएगी बल्कि शुक्रवार को (क्वाड शिखर सम्मेलन) भी निश्चित तौर पर यह मुद्दा उठेगा…।’’

साकी ने कहा, ‘‘मैं जानती हूं कि इस शिखर सम्मेलन से कई हित जुड़े हैं। लेकिन हमें उम्मीद है कि इसमें कई वैश्विक मुद्दों पर बातचीत होगी।’’

उन्होंने दोहराया कि क्वाड सम्मेलन चीन पर केन्द्रित नहीं है।

उन्होंने कहा, ‘‘यकीनन कई नेताओं और देशों के मन में चीन एक मुद्दा है, लेकिन हम उम्मीद करते हैं कि वे जलवायु परिवर्तन संकट, आर्थिक सहयोग, कोविड-19 से निपटने के तरीकों और कई अन्य मुद्दों पर चर्चा करेंगे। इस बारे में (उइगर मुस्लिमों के बारे में) जो भी हो रहा है, अमेरिका उसे जनसंहार मानता है और हम चीन पर दबाव बनाने के लिए सहयोगियों के साथ मिलकर काम करने का अवसर तलाश रहे हैं। हम इस मुद्दे को अगले सप्ताह चीन के साथ सीधे तौर पर उठाएंगे।’’

क्वाड शिखर सम्मेलन के कुछ दिन बाद अमेरिका के विदेश मंत्री और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार 18 मार्च को अलास्का के एंकोरेज में अपने-अपने चीनी समकक्षों के साथ मुलाकात करने वाले हैं।

एक सवाल के जवाब ने साकी ने कहा, ‘‘हमें यह जरूरी लगा कि अगले सप्ताह होने वाली बातचीत अमेरिकी धरती पर हो। हम उम्मीद करते हैं कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलीवन और विदेश मंत्री टोनी ब्लिंकन इन मुद्दों पर चर्चा करेंगे….।

एक अलग संवाददाता सम्मेलन में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने कहा, ‘‘बातचीत में कुछ मुश्किलें आ सकती हैं।’’