एक्शन हीरो की स्टीरियोटाइप छवि से खुद को ऐसे बाहर निकाला था अक्षय कुमार ने

नई दिल्ली,  । बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार का कहना है कि उन्हें अपने प्रोफेशन के शुरुआती सालों के बाद अहसास हुआ कि वे एक्शन हीरो की छवि में जकड़ गए हैं।

अक्षय कहते हैं, अपने करियर के शुरुआती दिनों में मैं केवल एक्शन फिल्में करता था। हर सुबह जब मैं उठता था तो मुझे पता होता था कि मुझे सेट पर जाना है और एक्शन सीन शूट करना है। मैं इससे बोर हो जाता था। कई साल पहले की बात है जब मैं यह सोचने लगा था कि मैं केवल एक्शन फिल्में करके क्या कर रहा हूं।

वह याद करते हैं कि किस तरह उन्होंने कॉमेडी फिल्में करके अपनी यह स्टीरियोटाइप इमेज तोड़ी। उन्होंने आगे बताया, मैंने अलग-अलग चीजें करने की कोशिश की। तब लोग कहते थे कि तू कॉमेडी नहीं कर पाएगा। लेकिन प्रियदर्शनजी और राजकुमार संतोषीजी ने मुझे कॉमेडी में ब्रेक दिया।

वह किन शैलियों में काम करना चाहते हैं, इस पर अक्षय ने कहा, मैं यह नहीं देखता कि वह खलनायक है या नायक है। मैंने सब कुछ किया है। यदि मुझे फिल्म पसंद है, तो मैं उसे करता हूं।

अक्षय की आगामी फिल्मों की बात करें तो जल्द ही वे सूर्यवंशी में नजर आएंगे। इसमें उन्होंने एटीएस ऑफिसर वीर सूर्यवंशी की भूमिका निभाई है। वहीं बेल बॉटम में अक्षय रॉ एजेंट और पृथ्वीराज में पृथ्वीराज चौहान के किरदार में नजर आएंगे। उनकी बास्केट में बच्चन पांडे, अतरंगी रे, रक्षा बंधन और राम सेतु जैसी फिल्में भी हैं।