मिस्र में हेलीकॉप्टर दुर्घटना में 6 अमेरिकी सेवा सदस्यों की मौत

वाशिंगटन,  पेंटागन ने पुष्टि की है कि मिस्र के सिनाई प्रायद्वीप में एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में 6 अमेरिकी मारे गए हैं।

सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने रक्षा क्रिस्टोफर मिलर के कार्यवाहक सचिव के हवाले से बताया, हम मल्टीनेशनल फोर्स एंड ऑब्जर्वर (एमएफओ) के सिनाई प्रायद्वीप में एक ऑपरेशन के दौरान हेलीकॉप्टरदुर्घटना में 6 अमेरिकी और मित्र देश के दो सेवा सदस्यों के मारे जाने से दुखी हैं। ये बयान गुरुवार को जारी किया गया।

उन्होंने कहा, मैं इन सेवा सदस्यों के परिवारों, दोस्तों और टीम के साथियों के प्रति विभाग की संवेदना व्यक्त करता हूं।

पेंटागन के मुख्य प्रवक्ता जोनाथन हॉफमैन ने ट्वीट किया कि पेंटागन एमएफओ के संपर्क में है और जांच के लिए तैयार है।

एक बयान में, एमएफओ ने भी पुष्टि की कि मिस्र के सिनाई प्रायद्वीप में बहुराष्ट्रीय शांति सेना के 8 सदस्य एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मारे गए। ये हादसा शर्म अल-शेख के आसपास के क्षेत्र में एक नियमित मिशन के दौरान हुआ।

बयान में कहा गया, हमें यह बताते हुए गहरा दुख हो रहा है कि 8 वदीर्धारी एमएफओ सदस्य मारे गए – छह अमेरिकी नागरिक, एक फ्रांसीसी और एक चेक गणराज्य का। एक अमेरिकी एमएफओ सदस्य को बचा लिया गया। उसे अस्पताल ले जाया गया।

किस वजह से ये दुर्घटना हुई, इसकी जानकारी नहीं है। दुर्घटना के कारणों की जांच होगी।

इसने मिस्र और इजरायल के सहयोग और समर्थन की सराहना भी की।

एमएफओ एक रोम-आधारित अंतर्राष्ट्रीयशांति व्यवस्था है जो मिस्र और इजरायल के बीच एक समझौते के माध्यम से स्थापित की गई है।