स्टार्क को भारत में एसजी गेंद से स्विंग हासिल करने की उम्मीद

आस्ट्रेलिया के चार टेस्ट के आगामी भारत दौरे के दौरान मिलने वाली चुनौतियों से अवगत तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क ने कहा कि उन्हें वहां स्पिन की अनुकूल पिचों पर एसजी गेंद से पारंपरिक और रिवर्स स्विंग हासिल करने की उम्मीद है।

भारत घरेलू मैदान पर होने वाले मैचों के लिए एसजी गेंद का इस्तेमाल करता है और इसे कूकाबूरा गेंद पर तरजीह देता है जिसका इस्तेमाल आस्ट्रेलिया सहित टेस्ट मैच खेलने वाले अधिकांश देश करते हैं।

यहां आईसीसी ग्लोबल क्रिकेट अकादमी में आस्ट्रेलियाई टीम के अ5यास के बाद स्टार्क ने कहा, ‘‘मैंने पिछले कुछ समय से वहां लाल गेंद से क्रिकेट नहीं खेला है, चार साल हो गए हैं।’’ बायें हाथ के इस तेज गेंदबाज ने कहा, ‘‘वहां अलग गेंद का इस्तेमाल होता है, इसलिए उसे रिवर्स कराने का प्रयास करना और यह देखना कि नयी गेंद स्विंग करती है या नहीं, यह अलग तरह की चुनौती है।’’ इस पर पिछले कुछ समय से बहस चल रही है कि पुणे में 23 फरवरी से शुरू हो रही टेस्ट श्रृंखला के दौरान आस्ट्रेलिया भारत में स्टार्क और साथी तेज गेंदबाज जोस हेजलवुड का कैसे इस्तेमाल करता है।