राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीतना अब भी लक्ष्य : अश्विनी

नयी दिल्ली, चोटी की युगल बैडमिंटन खिलाड़ी अश्विनी पोनप्पा का अगले साल होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीतना अब भी एक मुख्य लक्ष्य है। अश्विनी ने पिछले सप्ताह आस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में सुदीरमन कप में भारत की अगुवाई की थी। इसी स्थान पर अगले साल राष्ट्रमंडल खेल खेले जाएंगे। अश्विनी ने मिश्रित युगल में सात्विकसाइराज रानिकरेड्डी के साथ और महिला युगल में एन सिक्की रेड्डी के साथ जोड़ी बनायी थी और उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया था। अश्विनी ने पीटीआई से कहा, ‘‘हमारी निगाह अब अगले टूर्नामेंट पर है और हम अपने पिछले प्रदर्शन से बेहतर करना चाहते हैं। अगर हम इस साल सुपर सीरीज के फाइनल में पहुंचने में सफल रहे तो यह अच्छा रहेगा और निश्चित तौर पर राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीतना हमारा एक लक्ष्य होगा। ’’ ज्वाला गुटा के साथ मिलकर अश्विनी ने मजबूत युगल जोड़ी बनायी थी। उन्होंने राष्ट्रमंडल खेल 2010 और 2014 में पदक जीते थे और विश्व चैंपियनशिप 2011 में कांस्य पदक हासिल किया था। उन्होंने लंदन ओलंपिक 2012 और रियो ओलंपिक 2016 के लिये भी क्वालीफाई किया था। ज्वाला अब संन्यास लेने पर विचार कर रही है और ऐसे में अश्विनी युगल में चोटी की खिलाड़ी बन गयी है। वह महिला युगल में अपनी नयी जोड़ीदार सिक्की के साथ सैयद मोदी ग्रां प्री गोल्ड में उप विजेता रही थी।