मोदी को अपने काम के बजाय दूसरों के बाथरूम में झांकना पसंद है : राहुल

लखनऊ,  कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ‘जन्मपत्री’ सम्बन्धी टिप्पणी पर पलटवार करते हुए आज कहा कि मोदी को जन्मपत्री निकालना और लोगों के बाथरूम में झांकना अच्छा लगता है। उन्हें लग रहा है कि उत्तर प्रदेश में सपा-कांग्रेस गठबंधन की सरकार आएगी, नतीजतन अपनी साख पर चोट पहुंचने की हताशा में वह ऐसी बातें कर रहे हैं।

राहुल ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में मोदी की ‘जन्मपत्री’ निकालने सम्बन्धी टिप्पणी पर कहा ‘‘मोदी को जन्मपत्री निकालना अच्छा लगता है… लोगों के बाथरूम में झांकना अच्छा लगता है, वह अपने बाकी समय में यह सब करें लेकिन रोजगार और सुरक्षा देने के सवाल पर वह विफल हो गये हैं, उन्हें यह लग रहा है कि उत्तर प्रदेश में सपा-कांग्रेस की सरकार आएगी, इससे उनकी विश्वसनीयता को धक्का लगेगा। वह जो बोल रहे हैं, वह उनकी हताशा है।’’ राहुल ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ यहां संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में अपने गठबंधन के ’प्रगति के 10 कदम’ प्रतिबद्घ हैं हम’ संकल्प पत्र का विमोचन करने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में यह टिप्पणी की। उन्होंने यह भी कहा कि मोदी पिछले दो साल से प्रधानमंत्री हैं। वह कांग्रेस की जन्मपत्री निकालें और आगे बढ़ें।

राहुल का यह बयान प्रधानमंत्री मोदी द्वारा संसद में की गयी उस टिप्पणी के जवाब में आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि रेनकोट पहनकर नहाना तो कोई पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से सीखे। अपनी सरकार पर भ्रष्टाचार के इतने आरोप लगने के बावजूद मनमोहन के दामन पर एक भी दाग नहीं लगा। उन्होंने कल हरिद्वार में एक रैली में यह भी कहा था कि कांग्रेस के लोग ज्यादा ना बोलें क्योंकि उनके पास सबकी जन्मपत्री है।

अखिलेश ने ‘जन्मपत्री’ संबंधी प्रधानमंत्री मोदी के बयान के बारे में पूछे गये सवाल पर कहा ‘‘यह चुनाव है। इसमें गुस्सा नहीं आना चाहिये। प्रधानमंत्री ने जो चीजें जमीन पर पहुंचायी हैं, उनके बारे में बताएं। आज इंटरनेट का जमाना है.. सबकी जन्मपत्री निकलती है। प्रधानमंत्री अगर आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर चलें तो मैं कह सकता हूं कि वह भी सपा-कांग्रेस को ही वोट देंगे।’’