मैक्सिको ने अमेरिका में अपने नागरिकों से ‘सावधानी बरतने’ को कहा

मैक्सिको सिटी,  :एएफपी: दस्तावेज न होने के कारण एक मां को अमेरिका से वापस उसके देश मेक्सिको भेज दिए जाने की घटना के बाद मेक्सिको की सरकार ने अमेरिका में रहने वाले अपने नागरिकों को वहां पैदा हुई ‘नई वास्तविकता’ के बीच ‘सावधानी बरतने’ की चेतावनी दी है।

एरिजोना के फीनिक्स में अमेरिका के आव्रजन और सीमा शुल्क प्रवर्तन में नियमित आधार पर गई गुआदल्यूपे गार्शिया डी रयोस को गुरूवार को मैक्सिको वापस भेज दिया गया था। अमेरिकी मीडिया के अनुसार अमेरिका में जन्मे दो बच्चों की 35 वर्षीय मां के निर्वासन के बाद आव्रजन कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया ।

मैक्सिको के विदेश मंत्रालय ने गुरूवार को दिए एक बयान में कहा, ‘‘ गार्शिया का मामला उस नई वास्तविकता को रेखांकित करता है, जिसका अनुभव अमेरिकी क्षेत्र में रहने वाला मैक्सिकन समुदाय आव्रजन नियंत्रण के कड़े उपायों के लागू होने के बाद कर रहा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ इस कारण, पूरे मैक्सिकन समुदाय को सावधानी बरतने और इस तरह की स्थिति में आवश्यक मदद पाने के लिए अपने नजदीकी वाणिज्य दूतावास से संपर्क रखने को कहा गया है। ’’ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ओर से दीवार निर्माण के लिए मेक्सिको से भुगतान करवाने पर जोर देने के कारण मैक्सिको के राष्ट्रपति एनरिके पेन्या नीटो ने अपनी व्हाइट हाउस यात्रा भी रद्द कर दी थी।