महाराष्ट्र : सरकार गठन पर पल पल बदल रहे घटनाक्रम

मुंबई, | कांग्रेस के बाद अब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने सोमवार को घोषणा की है कि सरकार बनाने को लेकर शिवसेना को समर्थन देने के बारे में उन्होंने अभी अंतिम फैसला नहीं लिया है। एनसीपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक का कहना है कि इस संबंध में कांग्रेस का निर्णय भी अभी नहीं आया है, इस बारे में सोमवार शाम चार बजे के बाद ही पता चल पाएगा। उनके निर्णय के बाद ही उनकी पार्टी (एनसीपी) अपना अंतिम फैसला सुनाएगी।

मलिक ने कहा, “हमारी पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने यह साफ कर दिया है कि एनसीपी का फैसला कांग्रेस के निर्णय के बाद ही आएगा, क्योंकि दोनों पार्टियों ने गठबंधन में चुनाव लड़ा है।”

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने नई दिल्ली में कहा कि कांग्रेस कार्य समिति महाराष्ट्र की स्थिति पर विचार-विमर्श कर रही है और इस मामले में आगे बढ़ने से पहले वे राज्य के नेताओं के साथ चर्चा करेंगे। कांग्रेसी नेता के इस बयान के बाद ही एनसीपी के मलिक ने अपना बयान दिया।

कथित तौर पर राज भवन द्वारा शिवसेना को सरकार बनाने की अपनी क्षमता के बारे में सूचित करने के लिए शाम 7.30 बजे तक का समय दिया गया है। इस बारे में मलिक ने कहा कि कांग्रेस के निर्णय के बाद सिर्फ तीन घंटे बचेंगे और इस तीन घंटे में बहुत सारी चीजें करनी होंगी।

सेना के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पार्टी ने कांग्रेस और एनसीपी के साथ ज्यादातर विवादित मुद्दे को सुलझा लिया है, कुछ मुद्दे अभी भी बचे हैं, जिनपर पार्टी के नेता काम कर रहे हैं।

वहीं कांग्रेस-एनसीपी को भरोसे में लेने के लिए शिवसेना के एकमात्र नामांकित नेता व केंद्रीय मंत्रिमंडल में भारी उद्योग मंत्री अरविंद सावंत ने अपना इस्तीफा दे दिया है।