मप्र की नीलिमा लगी है कई दंगल गर्ल तैयार करने में

भोपाल,  मशहूर अभिनेता सलमान खान और आमिर खान की अभिनीत कुश्ती पर आधारित करोड़ों रूपये का कारोबार करने वाली बॉलीवुड फिल्में सुल्तान और दंगल में कलाकारों को कुश्ती के दांव-पेंच सिखाने वाली मध्यप्रदेश की महिला पहलवान नीलिमा बौरासी अपने जैसी अनेक दंगल गर्ल तैयार करने में सालों से लगी हुयी हैं।

जनसम्पर्क विभाग के अनुसार मध्यप्रदेश की खेल राजधानी माने जाने वाले इन्दौर शहर से ताल्लुक रखने वाली नीलिमा कुश्ती और शस्त्र कला के क्षेत्र में प्रदेश में महिला सशक्तीकरण की भी एक मिसाल बन गयी है।

गरीब परिवार में जन्मीं यह 22 साल की यह पहलवान पिछले चार साल से अपने कुश्ती खेल के कौशल से लड़कियों को पहलवानी की बारीकियाँ सिखा रही हैं तथा इसके द्वारा तैयार कई बच्चे राष्ट्रीय और राज्य स्तर की स्पर्धाओं में खेल चुके हैं।

नीलिमा द्वारा इन्दौर में संचालित श्री रामनाथ गुरु व्यायाम-शाला तथा बालिका शस्त्र कला केन्द्र में बालिकाओं को दंगल एवं शस्त्र कला में तलवार फेरना, बनेटी, पटा, बाना, भाला, डण्डे की मार और बचाव के गुर सिखाए जा रहे हैं।

संस्थान में 8 से 18 वर्ष तक की लगभग 50 लड़कियाँ रोज कुश्ती के दांव-पेंच सीख रही हैं। नीलिमा को शस्त्र कला का ज्ञान अपने पिता मुन्ना बौरासी से हासिल हुआ। लड़की होने के कारण कुश्ती का खेल अपनाने के कारण समाज के ताने सुनने के बाद भी उन्होंने अपनी कला को नहीं छोड़ा। जब नीलिमा पर पुरस्कारों की बौछार हुई, तो ताने सुनाने वाला समाज अब उसकी तारीफ करते नहीं थकता।

इस बालिका ने अपने बल एवं कला से राष्ट्रीय-स्तर के अनेक पदक जीते हैं। नीलिमा कोलकाता में वर्ष 2013 में हुई सीनियर नेशनल चैम्पियनशिप में कांस्य पदक तथा प्रदेश स्तरीय स्पर्धाओं में अब तक आठ स्वर्ण पदक जीत चुकी है। इस बालिका पहलवान को अनेक संस्थाएँ सम्मानित तथा पुरस्कृत कर चुकी हैं।