बजट में किसानों, डिजिटल अर्थव्यवस्था व बुनियादी ढांचे सहित 10 क्षेत्रों पर विशेष ध्यान: जेटली

नयी दिल्ली, वित्त मंत्री अरूण जेटली ने आज कहा कि रूपांतरित, उर्जावान व स्वच्छ भारत (टेकइंडिया) के लिए उनके बजट (2017-18) में 10 महत्वपूर्ण क्षेत्रों पर जोर रहेगा जिसमें किसान, बुनियादी ढांचा, डिजिटल अर्थव्यवस्था व कर प्रशासन शामिल है।

बजट में जिन और क्षेत्रों पर जोर रहेगा उनमें ग्रामीण भारत, युवा, गरीब व वंचित तबका, वित्तीय क्षेत्र, जन सेवा व सुविचारित राजकोषीय प्रबंधन शामिल है।

जेटली ने बजट पेश करते हुए बजट के तीन मुख्य एजेंडे टीईसीइंडिया (टेकइंडिया) तय किया और कहा,‘आर्थिक गतिविधियों को बल देने के लिए सरकार सुधारों को जारी रखेगी।’ जेटली ने मनरेगा के लिए आवंटन बढाकर ‘सबसे अधिक’ 48,000 करोड़ रपये करने तथा कृषि रिण के लिए 10 लाख करोड़ रपये के प्रावधान की घोषणा की।

इसी तरह 20,000 करोड़ रपये के अतिरिक्त कोष के साथ नाबार्ड में दीर्घकालिक सिंचाई कोष स्थापित किए जाने का प्रस्ताव है।