न्यूयॉर्क में कोरोना वायरस के 1100 मरीजों को मलेरिया की ‘हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन’ दवाई दी गई : ट्रम्प

वाशिंगटन, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि न्यूयॉर्क में कोरोना वायरस के 1100 मरीजों को मलेरिया की ‘हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन’ दवाई दी गई है । इस दवा से, संभवत: इस जानलेवा वायरस से निपटने में मदद मिल सकती है ,जिससे देश भर में 1,40,000 से अधिक लोग संक्रमित हैं।

यह दवाई सस्ती है और इसके कोई दुष्प्रभाव भी नहीं है। मलेरिया से निपटने के लिए 1955 में इसका सबसे अधिक इस्तेमाल किया गया था।

व्हाइट हाउस में दैनिक संवाददाता सम्मेलन में ट्रम्प ने कहा, ‘‘ न्यूयॉर्क में 1100 मरीजों को ‘जेड पैक’ के साथ ‘हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन’ दवाई दी गई है । अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी क्योंकि इसे अभी दो दिन ही हुए हैं। लेकिन देखते हैं क्या होता है।’’

पिछले सप्ताह ट्रम्प ने कहा था कि यह दवाई ‘‘भगवान का तोहफा’’ साबित हो सकती है।

ट्रम्प ने खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) के निदेशक स्टीफन का कोविड-19 के उपचार के लिए इस दवाई का इस्तेमाल करने की अनुमति देने के लिए भी शुक्रिया किया।