नोटबंदी से सामान्य जीवन प्रभावित हुआ : चिदंबरम

तंजावुर :तमिलनाडु:,  कालेधन की समस्या से निपटने को उंचे मूल्य की मुद्रा को बंद करने के सरकार के फैसले से देश की ज्यादातर आबादी बुरी तरह प्रभावित हुई है। पूर्व कंेद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने यह बात कही है।

चिदंबरम ने कल रात ‘नोटबंदी योजना’ पर एक परिचर्चा में दावा किया कि नोटबंदी से सामान्य जीवन प्रभावित हुआ है और ज्यादातर लोग दिक्कतांे का सामना कर रहे हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि नोटबंदी के क्रियान्वयन के लिए प्रधानमंत्री नरंेद्र मोदी ने रिजर्व बैंक के गवर्नर की भूमिका संभाली। उन्होंने कहा कि इस योजना से सिर्फ सरकारी और निजी बैंकांे को फायदा हुआ, जबकि आम आदमी व छोटे दुकानदार इससे बुरी तरह प्रभावित हुए।

चिदंबरम ने सरकार के इस दावे को खारिज किया कि इससे कालेधन तथा जाली मुद्रा को समाप्त करने में मदद मिली है। उन्होंने कहा कि सरकार इसे उचित तरीके से क्रियान्वित करने में विफल रही।

अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के सदस्य और चिदंबर के पुत्र कार्ति चिदंबरम ने भी इस मुद्दे पर अपने विचार रखे।