धनतेरस पर बाजारों में जमकर बरसा धन, खूब हुई खरीदारी

उज्जैन। पांच दिवसीय दीपावली पर्व के प्रथम दिन धनतेरस पर शुक्रवार कों बाजारो ंमें भारी भीड रही। वर्तन सें लेकर फर्नीचर, टीवी, फ्रिज तथा ज्वेलरी की भी जमकर लोगो ंने खरीदारी की। धनतेरस को लेकर लोग देर रात तक खरीदारी करते नजर आयें। लेगों ने पूजा के लिए गणेश लक्ष्मी के साथ चांदी के सिक्के भी खरीदें। भीड होने के कारण सर्राफा की दुकानें भी देर रात तक खुली रही।

दीपावली से दो दिन पहलें पडनें वालें धनतेरस पर्व पर शहर के पटनी बाजार, गोपाल मंदिर, फ्रिगंज सहित बाजार में चारो ंतरफ ग्राहकों की सुबह सें भीड नजर आने लगी थी। दुकानदारो ने अपनी दुकानों को भी फूलों तथा रंग बिरंगी बिजली की झालरों सें सजा रखा था। धनतेरस पर बरतन की पूजा का महत्व होने के कारण सर्वाधिक भीड बरतनों की दुकानों पर रही। ग्राहकों ने चम्मच सें लेकर स्टील के गैस चूल्हें सहित अनेक बरतनों को खरीदा। दुकानों पर खरीदारी को देखतें हुए मंहगाई का भी असर दिखाई नही दिया। व्यापारियों ने बताया कि यह साल का प्रमुख त्योहार है। इसमें ग्राहक कुछ न कुछ बरतन जरूर खरीदते है। उन्होने कहा कि हर बार की तरह इस बार भी चांदी की गणेश लक्ष्मी के सिक्कों की सर्वाधिक डिमाण्ड रही।

इलैक्ट्रानिक व फर्नीचर का सामान जमकर बिका
इलैक्ट्रानिक दुकानों पर भी देर रात्रि तक खरीदारी का सिलसिला चलता रहा। अधिकांशतर महिलाओं नें आटोमेटिक वाशिंग मशीन, फ्रीज सहित अन्य उपकरणों को खरीदा हालाकि युवाओं ने सर्वाधिक एलसीडी आदि खरीदी। वहीं पर फर्नीचर की दुकानों पर दीवान पंलग, सौफे सहित अन्य सामान गा्रहकों द्वारा खरीदा गया। मंहगाई होने के बाद भी फर्नीचरों की दुकानों पर जमकर सामान की बिक्री हुई।

लोगों ने गणेश लक्ष्मी के सिक्कों की खरीदारी की

दीपावली के प्रथम दिन पडनें वालें त्योहार धनतेरस के दिन सर्राफा बाजार में खांशी चहल पहल नजर आई सर्राफा की सभी दुकानो ंपर भीड लगी नजर आ रही थी। धनतेरस के कारण सोने, ंचादी के सिक्कें लोगों की पहली पसंद रहें। इसके साथ ज्वैलरी की मांग भी बाजार में काफी रही। चांदी के बनें गणेश, लक्ष्मी की मूर्तियां सभी को आकर्षित कर रही थी। खरीदारों में त्योहार को लेकर भारी उत्साह दिखाई दे रहा था। प्रकाश के इस पर्व पर लोग सोने चांदी की खरीदारी कों शुभ मानते है। इसलिए इन आभूषणों की बिक्री काफी होती है इसकों लेकर आभूषण विक्रेतां कई दिनों पहलें से तैयारी करनें लगते है हालाकि धनतेरस के पहलें बाजार मे ंकई प्रकार की ज्वैलरी आ जाती हैं इस बार भी सर्राफा बाजार मे ंकोई कमी नही रही।

लोगों को भा रही कलकत्ता की आकर्षक मूर्तियां

दीपावली के त्यांहार को लेकर बाजार में खरीदारों की भारी भीड उमडी नजर आई। लोग गणेश, लक्ष्मी की मूर्तियां खरीदतें दिखें। इस बार कलकत्ता की बनी मिटटी की मूर्तियां लोगों के लिए आकर्षक का केन्द्र रही। कहनें को इनकी कीमत अधिक बताई जाती है। फिर भी लोग इन मूर्तियें को अधिक पसंद कर रहें है। बाजार में 40 रूपये सें लेकर 3100 रूपयें तक की मूर्तियां बेची जा रही है। गणेश लक्ष्मी कों पहनाये जाने वाले कपडे, माला व अन्य सामग्री भी बिक रही है। बाजार में अनेक तरह की मूर्तियां बेची जा रही है। जिन्हे लोग अपनी पंसद के अनुसार खरीद रहें है। मूर्ति बिक्रेताओं का कहना है कि इस बार भी मूर्तियों की बिक्री पर कोई असर नही है।

स्टील के साथ जमकर हुई पीतल की बिक्री

धनतेरस के त्योहार को लेकर बरतनों की दुकानों पर खासी भीड लगी रही। स्टील के बरतनों की मांग काफी रही। लोग थाली कटोरी, चम्मच के अलावा डिनर सैट भी खरीद रहें थ। पूजा के लिए पीतल का लोटा, घण्टी, आरती व भगवान के भोग की थाली को भी लोगों ने खरीदा। लोग उत्साह पूर्वक वर्तनां की खरीदारी कर रहे थे। हालत यह थी कि बरतनों की दुकानों पर खडे होने की जगह भी नही मिल रही थी। लेकिन धनतेरस के दिन नये बरतन खरीदना शुभ माना जानें के कारण बरतनों की खरीदारी कर रहें थे। हालाकि कई लोग एक दो दिन पहलें ही बरतनों की खरीदार कर चुके थे लेकिन त्योहार को लेकर वह भी खरीदारी करनें को बाजार पहुचें। स्टील के बरतनों में डिजाइन युक्त बरतनों की मांग खांसी दिखाई दी।