दिल्ली के बाद पांच और शहरों में अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान खोलने की योजना : नाइक

इंदौर,  एम्स की तर्ज पर दिल्ली में देश का पहला अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान विकसित करने के बाद केंद्रीय आयुष मंत्रालय करीब पांच और शहरों में ऐसे संस्थान शुरू करने की योजना पर आगे बढ़ रहा है।

केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद येस्सो नाइक ने आज यहां अपने विभाग के लगाये ‘आरोग्य मेले’ में शामिल होने के बाद संवाददाताओं को बताया, ‘हमने दिल्ली में एम्स की तर्ज पर देश का पहला अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान तैयार किया है। हमने करीब पांच और शहरों में ऐसे संस्थान शुरू करने के लिये सरकार से कोष की मांग की है।’ कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकारों पर अप्रत्यक्ष निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आजादी के बाद देश की पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों के प्रचार और विकास की अनदेखी की गयी।

उन्होंने कहा, ‘मैं किसी का नाम नहीं लूंगा। लेकिन आजादी के बाद देश की पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों को दबाया गया। नरेंद्र मोदी सरकार ने इन पद्धतियों को बढ़ावा देने के लिये अलग से आयुष मंत्रालय का गठन किया।’ कार्यक्रम के दौरान मध्यप्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री विजय शाह ने नाइक से मांग की कि उनके मंत्रालय को भोपाल में योग और प्राकृतिक चिकित्सा केंद्र खोलना चाहिये। इस मांग पर आयुष मंत्री ने भरोसा दिलाया कि प्रदेश सरकार के विस्तृत प्रस्ताव बनाकर भेजने पर इस दिशा में उचित कदम उठाये जायेंगे।