ट्रंप की बच्चों को सलाह : आराम से बैठें, सलीके से पेश आएं, हाथ धोएं और अमेरिका पर गर्व करें

वाशिंगटन,  अमेरिका में कोरोना वायरस के मद्देनजर लागू बंद के चलते अपने परिजनों के साथ घरों में रह रहे लाखों बच्चों को राष्ट्रपति ट्रंप ने आराम से बैठने, अच्छे से व्यवहार करने, हाथ धोते रहने और उनके देश पर गर्व करने की नसीहत दी है।

कोरोना वायरस वैश्विक महामारी फैलने के साथ दुनिया के तमाम अन्य देशों की तरह अमेरिका के जनजीवन की भी रफ्तार थम गई है। देश में स्कूल बंद हो गए हैं, यात्राओं पर प्रतिबंध है, कर्मचारियों को घर से काम करना पड़ रहा है और तमाम संस्थान बंद कर दिए गए हैं।

अधिकारियों का अब मानना है कि तेजी से फैल रही यह बीमारी महीनों तक जनजवीन सामान्य नहीं होने देगी।

शुक्रवार को संवाददाताओं से बातचीत के दौरान ट्रंप से पूछा गया कि वह घरों में रह रहे लाखों स्कूली बच्चों से क्या कहना चाहेंगे।

ट्रंप ने व्हाइट हाउस में संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, “मैं कहूंगा कि उन्हें घर में आराम से बैठना चाहिए, अच्छे से व्यवहार करना चाहिए, अपने हाथ धोते रहने चाहिए। ….बच्चे अपने माता-पिता के साथ घर में रहें और अपने देश पर गर्व करें।’’

एक पत्रकार ने ट्रंप से पूछा कि कई बच्चे बोर हो रहे हैं, परेशान हैं, ऑनलाइन थोड़ा-बहुत सीख रहे हैं लेकिन कक्षाओं में रहना ज्यादा बेहतर होता है।

इस पर ट्रंप ने कहा, “मै कहूंगा कि आप दुनिया के सबसे महान देश के नागरिक हैं और हम पर उसी तरह का हमला हुआ है जैसे 1917 में हुआ था।”

उन्होंने कहा, “बहुत साल पहले हम पर हमला हुआ था और हमने जीत हासिल की थी। हम इस बार भी जीतेंगे और उम्मीद है कि इसमें ज्यादा वक्त नहीं लगेगा। लेकिन हमें युद्ध जीतना है।”

राष्ट्रपति ने कहा कि बच्चों को बस आराम से रहना चाहिए और अपने देश पर गर्व महसूस करना चाहिए।

उन्होंने कहा, “क्योंकि यह हम उन्हीं के लिए कर रहे हैं। अगर आप सोच कर देखें तो हम यह किसी से भी ज्यादा उनके लिए कर रहे हैं।”