चंबल वासियों के विकास की जीवन रेखा को जोडने बनेगा एक्सप्रेसवे – मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि चंबल संभाग के भिण्ड मुरैना और श्योपुर वासियों के विकास की जीवन रेखा को जोडने के लिए चंबल एक्सप्रेसवे बनाने का निर्णय प्रदेश सरकार ने लिया है। इस एक्सप्रेसवे के बनजाने से चंबल क्षेत्र के बीहड क्षेत्र में उद्योगो सहित अन्य विकास आसानी से हो सकेंगे। यह एक्सप्रेसवे उत्तर प्रदेश एवं राजस्थान को जोडेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज भिण्ड जिले के गिरगांव में ओला प्रभावित किसानों की सभा को संबोधित कर रहे थे।
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने गिरगांव में हाई स्कूल खोलने और गिरगांव से कतरोल होते हुए दंदरौआ तक सडक मार्ग बनाने की घोषणा की। इस अवसर पर नर्मदा घाटी विकास राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री लालसिंह आर्य, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री प्रभात झा, क्षेत्रीय सांसद डॉ भागीरथ प्रसाद, विधायक भिण्ड श्री नरेन्द्र सिंह कुशवाह, मेहगांव श्री मुकेश सिंह चतुर्वेदी, प्रदेश उपाध्यक्ष श्री अरविन्द सिंह भदौरिया, सहित बडी संख्या में क्षेत्र के किसान और ग्रामीणजन उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भिण्ड अटेर के अलावा मिहोना, कनावर, दबोह के क्षेत्र में पहले से ही राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित किए जा चुके है। चंबल क्षेत्र के अटेर के अन्तर्गत चंबल पुल भी बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि चंबल एक्सप्रेसवे के बन जाने से संपूर्ण चंबल क्षेत्र विकास की मुख्य धारा में जुड सकेगा। यातायात के विकसित हो जाने से चंबल के बीहडो में नए उद्योग,डेयरी विकास तथा कृषि के नए आयाम जुड सकेंगे।
इसके पूर्व नर्मदा घाटी विकास राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री लालसिंह आर्य ने कहा कि मुख्यमंत्री हमेशा से ही किसानों के दुखदर्द में शामिल रहे है। किसानों से ज्यादा मुख्यमंत्री को चिंता है। वे प्रदेश के ऐसे मुख्यमंत्री है, जो स्वयं किसानों के खेतो में जाकर क्षति हुई फसल का मुआयना करते है। उन्होंने कहा कि गोहद क्षेत्र में ओला से प्रभावित किसानों की फसले प्रभावित हुई है। इन फसलो का सर्वे खेत-खेत पर जाकर किया जा रहा है। सर्वे के उपरांत किसानों को राहत राशि भी मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में उपलब्ध कराई जाएगी।

संकट की घडी में सरकार किसानों के साथ

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ओला एवं बे मौसम बारिश से किसानों की फसले तबाह हुई है, लेकिन हम उनकी जिंदगी तबाह नहीं होने देंगे। संकट की इस घडी में सरकार पूरी ताकत के साथ किसानों के साथ खडी हुई है। फसलो की क्षति का तत्परता से आंकलन कराया जा रहा है और किसानों को शीघ्र ही राहत मुहैया भी कराई जाएगी। उन्होंने जिला प्रशासन को हिदायत देते हुए कहा कि पूरी ईमानदारी और संवेदनशीलता के साथ फसलो का सर्वेक्षण कराया जाए। क्षति के आंकलन के बाद प्रभावित किसानों की सूची ग्राम पंचायत पर चस्पा की जाएगी। ताकि किसान अपनी क्षति नुकसान को देख सकें। अगर किसानों को कोई आपत्ति हो तो वे पुनः अपने खेत का सर्वे भी करा सकते है। उन्होंने कहा कि भिण्ड जिले के 73 गांव ओला से प्रभावित हुए है। इनका सर्वे शत प्रतिशत होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि फसले मुरैना, ग्वालियर, दतिया, शिवपुरी की भी प्रभावित हुई है। इन क्षेत्रों में भी सर्वे कराकर किसानों को पूरी राहत दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जिन किसानों ने अपनी फसल का बीमा कराया है। उन्हें 25 प्रतिशत राशि प्राथमिक आंकलन के बाद दिलाई जाएगी, बाद में पूरा भुगतान कराया जाएगा, सरकार इसकी खुद मॉनीटरिंग करेंगी। जिन किसानों ने फसल का बीमा नहीं कराया है। उनकी भरपाई सरकार खुद कराएगी। श्री चौहान ने यह भी कहा कि जिन किसानों की फसलो का नुकसान 50 प्रतिशत से ज्यादा हुआ है, उनकी बेटियों के विवाह के लिए सरकार 25 हजार रूपए की आर्थिक सहायता मुहैया कराएगी। साथ ही ओला प्रभावित किसानों की कर्ज बसूली स्थगित की जाएगी, कर्ज का व्याज सरकार भरेगी। किसानों की बोई जाने वाली आगामी फसलो के लिए जीरो प्रतिशत पर खाद बीज की व्यवस्था की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि भिण्ड कलेक्टर कर्तव्यनिष्ठ होकर काम कर रहे है। फिर भी अगर सर्वे में लापरवाही हुई तो उसे बख्शा नहीं जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भिण्ड जिले की गोहद तहसील के बीएसएफ में तैनात कमलेश गुर्जर की दुघर्टना में मृत्यु होने पर शोक व्यक्त किया है। साथ ही दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करने की ईश्वर से कामना की। उन्होंने कहा कि इस दुख की घडी में सरकार मृतक परिजनो के साथ खडी है, सरकार उनका सम्मान भी करेगी और राहत भी देगी। स्व.श्री कमलेश गुर्जर मेघालय चेकपोस्ट पर तैनात थे।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने गिरगांव हैलीपेड पर उतरने के बाद क्षेत्र के किसान श्री दाताराम, श्री जवान सिंह एवं श्री मंगलसिंह के सरसों के खेतो पर पहुंचकर ओले से हुए नुकसान का जायजा लिया। उन्होंने सरसो एवं मसूर की फलियों को भी देखा, जिनका दाना ओले के कारण निकलकर जमीन पर गिरा पाया। उन्होंने मौके पर किसानों को सांत्वना देते हुए कहा कि इस संकट की घडी में सरकार आपके साथ है, जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई की जाएगी चिंता न करे सरकार आपके साथ है।

इस अवसर पर चंबल रेंज के आईजी श्री उमेश जोगा, डीआईजी श्री अनिल शर्मा, भाजपा के जिलाध्यक्ष श्री संजीव कांकर, कलेक्टर डॉ इलैया राजा टी, प्रभारी पुलिस अधीक्षक श्री राजेन्द्र वर्मा, जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्री केपी सिंह भदौरिया, नगर पालिका अध्यक्ष श्री भीकम सिंह कौशल, ग्रामीण अध्यक्ष कमल सिंह तोमर, पार्टी पदाधिकारी श्री दशरथ सिंह गुर्जर, श्री वीरेन्द्र सिंह राणा, पूर्व विधायक मेहगांव श्री राकेश शुक्ला, अर्चना शर्मा, श्री रामबाबू उपाध्या, श्री लक्ष्मीनारायण शर्मा, श्री अवधेश सिंह कुशवाह, श्री अशोक सिंह गुर्जर सहित बडी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।