कांग्रेस पार्टी द्वारा दिए हुए कई पदों को छोड़ने को तैयार दरबार

विरोधियों को बताया कमल कांग्रेसी, जो कांग्रेस में रहकर कर रहे भाजपा के लिए काम और कर रहे कांग्रेस का नुकसान
उज्जैन। जयसिंह दरबार ने कांग्रेस द्वारा दिए गए पदों को छोड़ने की घोषणा कर दी। विद्युत सलाहकार समिति में अशासकीय सदस्य मनोनीत किए जाने से उपजे विवाद के बाद जयसिंह दरबार ने इस्तीफे की घोषणा से विराम लगा दिया।
गुरुवार को प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में जयसिंह दरबार ने बताया कि कुछ कमल कांग्रेसियों द्वारा हमेशा उनका विरोध किया जाता रहा है और उनके साथ-साथ कांग्रेस का भी नुकसान किया जा रहा है। आगे दरबार ने कहा कि उनके कार्यकाल में उनके वार्ड में कभी किसी तरह की कोई समस्या नहीं आने दी। जब शहरभर में जल संकट था, तब भी उनके क्षेत्र में पानी की कहीं कोई कमी नहीं थी। उन्होंने अपने स्तर पर कई जगह टैंकरों से पानी पहुंचाएं। दरबार का कहना था कि जनता की सेवा के लिए उन्हें किसी तरह के पद की आवश्यकता नहीं है।
कांग्रेस के भीतर उनके विरोधियों के बारे में कहा कि जो लोग उनका विरोध कर रहे हैं, वे सब कहीं न कहीं ‘कमलÓ के लिए काम कर रहे हैं। ऐसे कमल कांग्रेसियों के कारण ही शहर में कांग्रेस को नुकसान हो रहा है। जब उनसे एक भी कमल कांग्रेसी का नाम पूछा गया तो इस पर उनका एक ही जवाब आया कि पूरा शहर इन कमल कांग्रेसियों को जानता है।