ऑस्ट्रेलिया में जंगलों में लगी आग फैलने के डर से लोगों को जगह खाली करने का आदेश

सिडनी, ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने पर्यटकों को आगाह किया है कि तेज हवा चलने के कारण जंगलों में लगी आग फैल सकती है। इसके साथ ही सरकार ने दक्षिण-पूर्वी क्षेत्र में मौजूद हजारों पर्यटकों को 48 घंटे के भीतर क्षेत्र खाली करने का आदेश दिया है।

न्यू साउथ वेल्स और विक्टोरिया राज्य के जंगलों में लगी आग ने घरों को तबाह कर दिया और इसके कारण हजारों लोग तथा पर्यटक तटीय क्षेत्र की ओर जाने पर मजबूर हो गए।

सोमवार से जंगल की आग की वजह से सात लोगों की मौत हो चुकी है। इस आग ने ऑस्ट्रेलिया के दक्षिण पूर्वी तट पर साउथ वेल्स और विक्टोरिया राज्यों में तबाही मचाई है।

मंगलवार सुबह मलाकूटा शहर के करीब 4,000 लोग भाग कर तट की ओर चले गए, क्योंकि हवा की दिशा की वजह से आग उनके घरों तक पहुंच रही है।

एनएसडब्ल्यू परिवहन मंत्री एंड्रयू कॉन्स्टेंस ने सार्वजनिक प्रसारक ‘एबीसी’ को बताया कि क्षेत्र में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में लोगों को हटाया जा रहा है।

न्यू साउथ वेल्स ग्रामीण दमकल सेवा ने बेटमैन बे से लेकर पड़ोसी विक्टोरिया राज्य तक के 200 किमी के क्षेत्र से पर्यटकों को जाने को कह दिया था।

पर्यटकों से कहा गया है कि वे शनिवार से पहले वहां से निकल जाएं क्योंकि तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार जा सकता है और तेज हवाएं चल सकती हैं।

एनएसडब्ल्यू ‘रूरल फायर सर्विस’ के उपायुक्त रॉब रोजर्स ने बताया कि दमकल कर्मी आग को बुझा नहीं पा रहे, उस पर काबू भी नहीं कर पा रहे हैं।

उन्होंने ‘एबीसी’ से कहा कि आग इतनी अधिक लगी है कि हम उस पर काबू पाने में सक्षम नहीं हैं।