ईरान समझौता अब तक का सबसे ‘खराब समझौता’: ट्रंप

वाशिंगटन, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान के विवादास्पद परमाणु कार्यक्रमों पर अंकुश लगाने के वास्ते पिछले वर्ष हुए परमाणु समझौते को ‘सबसे खराब’ समझौता करार देते हुए इस देश को विश्व का नबंर एक आतंकवादी देश बताया है।

ट्रंप ने ‘फॉक्स न्यूज’ को दिए एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘वह :ईरानी: विश्व का नबंर एक आतंकवादी देश है। वे धन और हथियारों को हर कहीं भेज रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि यह एक ऐसा समझौता है जो कभी होना ही नहीं चाहिए।’’ ट्रंप प्रशासन ने ईरान के कथित रूप से अस्थिरता पैदा करने वाले व्यवहार एवं संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव का कथित उल्लंघन करते हुए बैलिस्टिक मिसाइल प्रक्षेपण के कारण उसके खिलाफ अतिरिक्त प्रतिबंध लगाए थे।

ट्रंप ने कहा, ‘‘यह समझौता ओबामा प्रशासन ने किया था। यह शर्मनाक है कि हमने इस तरह का समझौता किया और हमें इस तरह का समझौता करना पड़ा। ऐसा करने का कोई कारण नहीं था। यदि आपको समझौता करना है तो अच्छा समझौता कीजिए। ’’ यह पूछे जाने पर कि क्या वह ईरान के साथ हुए समझौते को समाप्त कर देंगे।, उन्होंने कहा, ‘‘देखते हैं कि क्या होता है। मैं यह कह सकता हूं कि वह हमारे देश का जरा भी सम्मान नहीं करते।’’