इंसानियत ही सबसे बड़ा धर्म: डी.एस. बिंद्रा

उज्जैन। दिल्ल्ी के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून सीएए के खिलाफ धरना प्रदर्शन चल रहा है। इस प्रदर्शन में लोग विभिन्न तरीके से हिस्सेदारी कर रहे हैं। इनमें से ही एक शख्स हैं डीएस बिंद्रा जो प्रदर्शनकारियों के लिए लंगर लगा रहे है। उन्होंने कहा है कि प्रदर्शनकारियों के भोजन का इंतजाम करने के लिए उन्होने अपना फ्लैट तक बेच दिया।
शाहीन बाग में लंगर लगाने वाले डीएस बिंद्रा ने उज्जैन पत्रकारवार्ता में बताया कि मुझे किसी राजनीतिक दल से कोई मतलब नहीं हैं मैं यहां पर सेवा करने आया हूं, मैंने कभी कहीं पर भी किसी पार्टी को सपोर्ट करने की बात नहीं कहीं है। हां, हर इंसान किसी न किसी राजनीतिक दल से प्रभावित जरूर होता है। मै तो वीपी सिंह से लेकर राजब्बर, जनमोर्चा, जेडीयू और एआईएमआईएम का समर्थन करता हूं। लेकिन यहां पर मेरा किसी पार्टी से कोई लेना देना नहीं।