अ.भा.कालिदास समारोह की मंगल कलश-यात्रा एवं वागर्चन सम्पन्न होगा

देवप्रबोधनी एकादशी से प्रारंभ होने वाले अखिल भारतीय कालिदास समारोह, 2019 दिनांक 8 से 14 नवम्बर, 2019 तक आयोजित होगा। समारोह में नगर आमंत्रण हेतु आयोजित होने वाली मंगल कलश-यात्रा के संदर्भ में कालिदास अकादमी में बैठक सम्पन्न हुई।

उक्त जानकारी देते हुए अकादमी की प्रभारी निदेशक श्रीमती प्रतिभा दवे ने बताया कि दिनांक 7 नवम्बर, 2019 को प्रातः 08ः00 बजे रामघाट पर माँ शिप्रा एवं कलश पूजन होगा। तत्पश्चात् प्रातः 08ः30 बजे से महाकाल मैदान से कलश-यात्रा प्रारंभ होगी जो गुदरी चौराहा, गोपाल मंदिर, छत्रीचौक, कंठाल, नईसड़क, दौलतगंज, मालीपुरा, देवासगेट, चामुण्डा चौराहा, टॉवर, शहीद पार्क, कंट्रोल रूम से होती हुई अकादमी पहुँचेगी जहाँ मंगल कलश की स्थापना होगी।

कलश यात्रा के संयोजक श्री धर्मेन्द्र गुप्ता एवं सहसंयोजक श्री अमित शर्मा को बनाया गया है। उन्होंने बताया की वे शहर के विभिन्न समाजों, संगठनों, व्यापारी एसोसिएशन से सम्पर्क कर अधिक से अधिक संख्या में कलश यात्रा एवं समारोह मे भागीदारी के प्रयास किये जा रहे है।
कलश यात्रा शिक्षा विभाग के विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्राएँ अपने स्कूलों के शिक्षकों के साथ झण्डे लेकर एवं छात्राएँ पारम्परिक परिधान में कलश-यात्रा में सहभागिता करेंगी, राष्ट्रीय सेवा योजना के छात्र-छात्राएँ, बैण्ड, बग्घी, ढ़ोल, कडाबीन, श्री महाकालेश्वर मंदिर का चॉदी का ध्वज एवं वैदिक शोध संस्थान के बटुक, लोककलाकारों के दल, शहर के रंगकर्मियों के दलों द्वारा महाकवि कालिदास की कृतियों पर आधारित झाँकियाँ एवं महात्मा गाधी के 150 जयन्ती वर्ष पर आधारित झांकी भी रहेगी, साथ ही महाराजा विक्रमादित्य के 9 रत्नों के चित्र शामिल हांगे। त्रिनेत्रा संस्था के कलाकारों का दल श्री के.बी पण्ड्या के मार्गदर्शन में सम्पूर्ण कलश-यात्रा के मार्ग पर आकर्षक रांगोली बनाते हुए चलेगा। साथ ही शहर के माननीय जनप्रतिनिधिगण, केन्द्रीय समिति के सदस्य, स्थानीय समिति के सदस्य, गणमान्य नागरिक, वरिष्ठ अधिकारी कलश यात्रा में शामिल होंगे।

बैठक में हुई चर्चानुसार कलश-यात्रा में शामिल होने वाले विभिन्न विद्यालयों के विद्यार्थियों के दल शामिल होगे। यात्रा के मार्ग पर आने वाले संकुल परिधि के विद्यालयों के शिक्षक एवं विद्यार्थी विभिन्न स्थानों पर यात्रा का स्वागत करेंगे।
बैठक में प्रमुख रूप से श्री धर्मेन्द्र गुप्ता यात्रा संयोजक, श्री अमित शर्मा सहसंयोजक, श्री प्रशांत पुराणिक, श्री मुकेश त्रिवेदी प्रभारी स्कूल शिक्षा विभाग, श्री प्रतीक जैन, श्री संचित शर्मा, श्री जगदीश ललावत, श्री विनोद काबरा, सुश्री मनीषा व्यास, श्री पंकज आचार्य, श्री नन्दन चावड़ा, प्रमुख रूप से शामिल थे।