अर्थव्यवस्था के ‘घोर कुप्रबंधन’ पर कांग्रेस संसद में विपक्ष का नेतृत्व करे : चिदंबरम

नयी दिल्ली,  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने सोमवार को कहा कि उनकी पार्टी को मोदी शासन में अर्थव्यवस्था के घोर कुप्रबंधन को सामने लाने के लिए संसद में विपक्ष का नेतृत्व करना चाहिए।

चिदंबरम ने आरोप लगाया कि सरकार उचित आलोचना को भी स्वीकार नहीं करती ।

चिदंबरम के परिवार ने उनकी ओर से ट्वीट किया, ‘‘आज जब संसद शुरू हो रही है, कांग्रेस को विपक्ष का नेतृत्व करना चाहिए और अर्थव्यवस्था के घोर कुप्रबंधन को सामने लाना चाहिए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अर्थव्यवस्था का कौन सा क्षेत्र अच्छा प्रदर्शन कर रहा है? एक भी नहीं।’’

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘‘ ऐसा लगता है कि सरकार को सब पता है लेकिन वह उचित आलोचना तथा उचित सलाह को मानने से इनकार करती है।’’

संसद के शीतकालीन सत्र से पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने शनिवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई थी।

सर्वदलीय बैठक के बाद राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने संवाददाताओं से कहा कि पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदंबरम को भी संसद की कार्रवाई में भाग लेने की इजाजत मिलनी चाहिए।

गौरतलब है कि आईएनएक्स मीडिया धन शोधन मामले में चिदंबरम न्यायिक हिरासत में हैं। इस मामले की जांच प्रवर्तन निदेशालय कर रहा है।