अमेरिकी निगरानी संस्था ने अफगानिस्तान की प्रगति के निराशाजनक आंकड़े पेश किए

काबुल,  ट्रंप प्रशासन के दौरान, एक अमेरिकी निगरानी संस्था ने अफगानिस्तान पर अपनी पहली रिपोर्ट जारी की है जो बेहद निराशाजनक परिदृश्य पेश कर रही है। इसमें कहा गया है कि अफगान सरकार का नियंत्रण बमुश्किल देश के आधे हिस्से पर है, इसके सुरक्षा बलों के सदस्यों की संख्या घट रही है और मादक पदाथरें का उत्पादन कम होने के बजाए बढ़ रहा है।

स्पेशल इंस्पेक्टर जनरल ऑफ अफगान रिकन्स्ट्रक्शन :एसआईजीएआर: की रिपोर्ट में महज एक ही आशाजनक बिंदु यह है कि भ्रष्टाचार में उल्लेखनीय कमी आई है। 269 पन्नों की यह रिपोर्ट आज जारी की गई है।

एसआईजीएआर के जॉन सोपको ने कहा कि अफगानिस्तान के पुनर्निर्माण समेत सुरक्षा बलों पर वॉशिंगटन की ओर से वर्ष 2002 से निवेश किए गए 117 अरब डॉलर की रकम पर विचार करने के लिए नए प्रशासन के समक्ष यह एक अच्छा मौका है।