अमेरिका अफगानिस्तान की एकता सरकार का समर्थन करता है :ट्रंप

वाशिंगटन, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ फोन पर हुई बातचीत में अफगानिस्तान की एकता सरकार का समर्थन करने की बात कही है। बातचीत में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सामरिक भागीदारी के महत्व पर जोर दिया गया।

व्हाइट हाउस ने कल कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने अफगानिस्तान के राष्ट्रपति गनी से बातचीत की। उन्होंने अमेरिका-अफगानिस्तान के बीच सामरिक भागीदारी के महत्व पर जोर दिया और राष्ट्रीय एकता सरकार का समर्थन करने की बात कही।

ट्रंप और गनी ने सुरक्षा, आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में सहयोग और आर्थिक विकास के क्षेत्रों में द्विपक्षीय संबंध मजबूत करने के अवसरों पर चर्चा की।

व्हाइट हाउस ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप अफगानिस्तान के राष्ट्रपति गनी के साथ नियमित वार्ता करना चाहते हैं।

दोनों नेताओं ने फोन पर ऐसे दिन बातचीत की है, जब अफगानिस्तान में शीर्ष अमेरिकी कमांडर ने इस युद्धग्रस्त देश में स्थिति के संबंध में सांसदों को जानकारी दी।

अफगानिस्तान में नाटो बलों एवं अमेरिका के कमांडर जनरल जॉन निकोल्सन ने सीनेटरों से कहा कि गनी अफगानिस्तान में साहसिक सुधार ला रहे हैं और अफगान सुरक्षा बलों में सुधार करने के लिए भ्रष्टाचार विरोधी उपायों को लागू कर रहे हैं।

जनरल ने कहा कि रूस और ईरान युद्ध से प्रभावित अफगानिस्तान में अमेरिका एवं नाटो के शांति और स्थिरता के प्रयासों को कमजोर करने के लिए कुछ हिस्सों में तालिबान का समर्थन कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि रूस ने सार्वजनिक तौर पर तालिबान को वैधता प्रदान करनी आरंभ कर दी है। वह इस बात का प्रचार कर रहे हैं कि तालिबान इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ रहा है और अफगानिस्तान की सरकार इस्लामिक स्टेट के खिलाफ नहीं लड़ रही है। यह एक गलत प्रचार है।

उन्होंने कहा कि ऐसी खबर है कि ईरान तालिबान को हथियार और धन मुहैया करा रहा है।