अजमेर दरगाह बम विस्फोट मामले में फैसला अब 8 मार्च को आएगा

जयपुर, एनआईए मामलों की विशेष अदालत :सीबीआई: के विशेष न्यायाधीश दिनेश गुप्ता अजमेर में स्थित सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह परिसर में आहता ए नूर पेड के पास 11 अक्टूबर 2007 को हुए बम विस्फोट मामले का फैसला 8 मार्च को सुनाएंगे। अदालत आज इस मामले में फैसला सुनाने वाली थी।

बचाव पक्ष के वकील जगदीश एस राणा ने अदालत परिसर में संवाददाताओं को यह जानकारी दी। उन्होने बताया कि मामले में पर्याप्त गवाह और दस्तावेज हंै। दस्तावेजों और बयानों को पढ़ने और फैसला लंबा होने के कारण लिखने में समय लगने की वजह से अदालत अब 8 मार्च को फैसला सुनायेगी।

उन्होने कहा कि न्यायिक हिरासत में बंद आठ आरोपी स्वामी असीमानंद ,हषर्द सौलंकी, मुकेश वासाणी, लोकेश शर्मा, भावेश पटेल, मेहुल कुमार ,भरत भाई, देवेन्द्र गुप्ता फैसला सुनने के लिए अदालत में मौजूद थे।