नवीनतम लेख

हिंसक राजनीति में ध्वस्त होता लोकतंत्र

सत्रहवीं लोकसभा के चुनाव का समूचे देश में कमोबेश शांतिपूर्ण रहना जितना प्रशंसनीय है, उतना ही निंदनीय है पश्चिम बंगाल में उसका हिंसक, [...]

‘ताई’ की विदाई के बाद भाजपा के गढ़ में लो-प्रोफाइल चेहरों के बीच चुनावी भिड़ंत

इंदौर,  मध्यप्रदेश के इंदौर संसदीय क्षेत्र में पिछले 30 साल से हालांकि भाजपा की विजय पताका फहरा रही है। लेकिन चुनावी समर से [...]

बुद्ध हैं धर्मक्रांति के सूत्रधार

महापुरुषों की कीर्ति किसी एक युग तक सीमित नहीं रहती। उनका लोकहितकारी चिन्तन एवं कर्म कालजयी, सार्वभौमिक, सार्वकालिक एवं सार्वदैशिक होता है और [...]