रिलायंस ने कहा, 2020 के मध्य तक नए क्षेत्रों से गैस उत्पादन के लिए तैयार

नयी दिल्ली,  रिलायंस इंडस्ट्रीज लि. (आरआईएल) ने कहा है कि वह बंगाल की खाड़ी में केजी-डी6 ब्लॉक के नए क्षेत्रों से गैस उत्पादन के लिए पूरी तरह तैयार है। हालांकि, कंपनी के मौजूदा क्षेत्रों से उत्पादन लगातार नीचे आ रहा है।

रिलायंस और उसकी भागीदार ब्रिटेन की बीपी पीएलसी ने जून, 2017 में तीन नई खोजों में 40,000 करोड़ रुपये का निवेश करने की घोषणा की थी, ताकि केजी-डी 6 ब्लॉक से उत्पादन में गिरावट के रुख को पलटा जा सके।

इन क्षेत्रों से 2020-22 के दौरान चरणबद्ध तरीके से 3 से 3.5 करोड़ घनमीटर (या एक अरब घनफुट) का उत्पादन प्रतिदिन होने की उम्मीद है। ये नई खोजें हैं….आर क्लस्टर, सैटेलाइट क्लस्टर और एमजे क्षेत्र। आर-क्लस्टर से उत्पादन पहले शुरू होने की उम्मीद है।

दूसरी तिमाही के नतीजों की घोषणा के समय निवेशकों के समक्ष प्रस्तुतीकरण में रिलायंस ने कहा कि आर-क्लस्टर से 2020 के मध्य तक उत्पादन की तैयारी सही दिशा में चल रही है। कंपनी ने इस क्षेत्र में पहले ही सभी छह कुओं की खुदाई कर ली है।