उत्तर कोरिया ने दो सप्ताह में पांचवीं बार किया मिसाइल प्रक्षेपण

सियोल,  अमेरिका और दक्षिण कोरिया के संयुक्त सैन्य अभ्यास के खिलाफ विरोध जाहिर करते हुए उत्तर कोरिया ने शनिवार को एक बार फिर मिसाइल प्रक्षेपण किया।

सियोल में रक्षा अधिकारियों ने बताया कि हैमहंग शहर के पास से दो छोटी दूरी की बैलिस्टिक मिसाइलें दागी गईं। कोरियाई प्रायद्वीप और जापान के बीच समुद्र में गिरने वाली इन मिसाइलों ने 400 किलोमीटर की दूरी तय की।

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन ने पिछले दो सप्ताह में पांचवीं बार किए गए इस प्रक्षेपण को वॉशिंगटन और दक्षिण कोरियाई के संयुक्त अभ्यास के खिलाफ एक ‘‘ गंभीर चेतावनी ’’ करार दिया। यह संयुक्त अभ्यास दो दिन पहले ही शुरू हुआ है।

वहीं दूसरी ओर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने उत्तर कोरियाई नेता से एक पत्र मिलने की जानकारी दी।

ट्रम्प ने कहा, ‘‘ मुझे कल किम जोंग-उन से एक खूबसूरत पत्र मिला।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ वह एक बेहद सकारात्मक पत्र था। वह युद्ध अभ्यास से खुश नहीं है। मुझे भी यह कभी पसंद नहीं था। मैं कभी इसका प्रशंसक नहीं रहा। आपको पता है क्यों? मुझे इस पर पैसा लगाना पसंद नहीं है।’’

व्हाइट हाउस की ओर से इन ताजा प्रक्षेपणों पर कोई बयान जारी नहीं किया गया है।

वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी ने ‘एएफपी’ से कहा, ‘‘ हम अपने जापानी और दक्षिण कोरियाई सहयोगियों से निकटता से बात कर रहे हैं।’’

वहीं ट्रम्प ने एक सवाल के जवाब में कहा कि उत्तर कोरियाई नेता मिसाइल प्रक्षेपण से खुश नहीं हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘ उन्होंने मुझे एक बेहतरीन पत्र दिया है। मैं आपको उसे जरूर देना चाहूंगा, लेकिन मुझे नहीं पता, मुझे नहीं लगता कि यह उचित होगा। वह बेहद निजी पत्र है। यह बेहतरीन पत्र है। उन्होंने इस बारे में बताया कि वह (किम) क्या कर रहे हैं। वह प्रक्षेपण से खुश नहीं हैं। यह जो हम कर चुके हैं उसकी तुलना में बेहद छोटा प्रक्षेपण हैं।’’

उन्होंने कहा था, ‘‘ किम प्रक्षेपण से खुश नहीं हैं। उन्होंने पत्र में इसका जिक्र किया है, लेकिन वह उत्तर कोरिया के लिए अच्छा भविष्य भी देखते हैं। हम देखेंगे कि यह कैसे संभव होता है।’’