सैनी का भविष्य उज्जवल : कोहली

लॉडेरहिल (अमेरिका),  वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में तेज गेंदबाज नवदीप सैनी ने पदार्पण के दौरान शानदार स्पैल डाला और भारतीय कप्तान विराट कोहली ने उनकी काफी प्रशंसा की और उन्हें भविष्य की प्रतिभा करार दिया।

शनिवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत की चार विकेट की जीत में 26 वर्षीय सैनी ने 17 रन देकर तीन विकेट झटके। इससे भारत ने वेस्टइंडीज को नौ विकेट पर 95 रन पर रोक दिया और फिर 2.4 ओवर रहते लक्ष्य हासिल कर लिया।

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘‘ नवदीप दिल्ली से हैं और उसने लंबा सफर तय किया है। वह आईपीएल भी खेलता है और उसने सत्र में भी अच्छा प्रदर्शन किया। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘उसमें अच्छी प्रतिभा है। वह उन गेंदबाजों में से एक है जो 150 की रफ्तार से गेंदबाजी कर सकता है और शायद ही ऐसा कोई गेंदबाज हो जो इस गति से गेंदबाजी करता हो। साथ ही वह फिट है। वह अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा सकता है और वह इसके लिये बेताब भी है। उम्मीद है कि वह यहां से आगे बढ़ेगा। ’’

भारत ने इतने छोटे से लक्ष्य का पीछा करते हुए काफी विकेट गंवा दिये और कोहली ने स्वीकार किया कि उनकी टीम को बेहतर तरीके से मैच समाप्त करना चाहिए था। हालांकि उन्होंने कहा कि विकेट के कारण लक्ष्य पीछा करने में मुश्किल हुई।

भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘हमारी गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण सही था लेकिन पिच इतनी अच्छी नहीं थी। बारिश के चलते, आप ज्यादा कुछ नहीं कर सकते थे। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘ गेंदबाजों ने दबदबा बनाया और उनका वैरिएशन शानदार था। हम इस लक्ष्य को जल्दी हासिल करना चाहते थे, लेकिन साथ ही हम जोखिम लेना चाहते थे और रन जुटाना चाहते थे। जैसे-जैसे गेंद पुरानी होती गई, स्ट्राइक रोटेट करना अहम होता गया। ’’

रविवार को खेले जाने वाले दूसरे टी 20 आई के बारे में पूछे जाने पर, कोहली ने कहा, ‘‘सिर्फ मजबूत प्रदर्शन करना अहम है और यह सुनिश्चित करना कि कौन किस तरह से योगदान देता हैं। ’’

वेस्टइंडीज के कप्तान कार्लोस ब्रैथवेट ने कहा कि उनकी टीम हालात का आकलन अच्छी नहीं कर पायी और हार के लिए उन्होंने बल्लेबाजों को जिम्मेदार ठहराया।

हालांकि उन्होंने कीरोन पोलार्ड की प्रशंसा की जिन्होंने वेस्टइंडीज को 100 रन तक पहुंचाने के लिये 49 रन की पारी खेली।

उन्होंने कहा, ‘‘ कीरोन ने टीम में वापसी में अपना अनुभव दिखाया। अगर हमने 130 रन का स्कोर बनाया होता तो नतीजा कुछ अलग हो सकता था। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमें सकारात्मक तरीके से खेलना होगा। हमें बेहतर शाट चयन और सतर्क होकर खेलने की जरूरत है। सुनील नारायण के चार ओवर बहुत महत्वपूर्ण हैं। उसने अपना अनुभव दिखाया और हमें खेल में वापस लाया। उसका गेंदबाजी प्रयास अच्छा था।