सेंधमारी के लिये भाजपा ने भीम आर्मी प्रमुख को चुनाव में खड़ा कराया: मायावती

लखनऊ, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने भाजपा पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उम्मीदवारी वाले वाराणसी लोकसभा क्षेत्र में दलित वोटों में बंटवारा कराकर लाभ लेने के लिये भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर को चुनाव लड़ाने का आरोप लगाते हुए रविवार को मतदाताओं से अपील की कि वह ऐसे झांसे में ना आयें।

मायावती ने यहां एक बयान में कहा कि भाजपा खासकर दलितों के वोट बांटकर, खुद को फायदा पहुंचाने के लिए ही भीम आर्मी के संचालक चन्द्रशेखर को वाराणसी लोकसभा सीट से चुनाव लड़वा रही है ताकि बसपा का दलित वोट बंट जाये।

उन्होंने मतदाताओं का आह्वान किया कि ख़ासकर दलित वर्ग के लोग भाजपा को फायदा पहुँचाने के लिए चुनाव मैदान में उतारे गये व्यक्ति को अपना वोट देकर उसे ख़राब ना करें।

बसपा प्रमुख ने आरोप लगाया कि भीम आर्मी का गठन भाजपा ने ही कराया है। भाजपा ने ही साजिश के तहत सहारनपुर ज़िले में शब्बीरपुर काण्ड कराया। इसका खुलासा होने पर उसे जेल भेजा गया लेकिन चुनाव नज़दीक आते ही भाजपा ने ही उसे जेल से बाहर निकाल लिया।

मालूम हो कि अप्रैल-मई 2017 में सहारनपुर के शब्बीरपुर में हुई जातीय हिंसा के मामले में आरोपी भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर वाराणसी से चुनाव लड़ रहे हैं। सपा-बसपा-रालोद महागठबंधन के तहत यह सीट सपा के खाते में आयी है।