सउदी अरब में गोल्ड मेडल के साथ हुआ ट्रंप का स्वागत

रियाद,  वाशिंगटन में विवादों से घिरे हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का सउदी अरब में शाही तरीके से स्वागत किया गया।

ट्रंप ने अपने मेजबान देश के साथ 110 अरब डॉलर का शस्त्र सौदा किया है और उसके साथ कारोबार से जुड़े कई करार किए हैं। शस्त्र सौदे का उद्देश्य सउदी अरब की सुरक्षा को बढ़ावा देना है।

शहजादे मोहम्मद बिन नायेफ से कल मुलाकात के दौरान ट्रंप ने कहा, ‘‘कितना शानदार दिन है, अमेरिका में भारी निवेश हुए।’’ सउदी अरब की राजधानी की यात्रा के साथ ही राष्ट्रपति के रूप में ट्रंप की पहली विदेश यात्रा की शुरूआत हो गई है। पश्चिमी एशिया और यूरोप की उनकी इस यात्रा के तहत पांच पड़ाव होंगे। ट्रंप एकमात्र ऐसे अमेरिकी राष्ट्रपति हैं, जिन्होंने अपनी पहली विदेश यात्रा में सउदी अरब या किसी मुस्लिम बहुल देश को चुना है।

ट्रंप ऐसे समय रियाद पहुंचे हैं, जब अमेरिका में उनके द्वारा एफबीआई के निदेशक जेम्स कोमी को हटाए जाने और उनके चुनाव अभियान से रूस के तार जुड़े होने के आरोपों के चलते विवाद गहराया हुआ है।

पूरी रात की उड़ान भरकर रियाद पहुंचे ट्रंप का स्वागत शाह सलमान ने हवाईअड्डे पर किया। यह इस लिहाज से अहम है कि जब पिछले साल अमेरिका के तत्कलीन राष्ट्रपति बराक ओबामा सउदी अरब की अंतिम यात्रा पर आए थे, तो शाह उनकी अगवानी करने हवाईअड्डा नहीं गए थे