गोलन पहाड़ी क्षेत्र पर इजरायल के प्रभुत्व को मान्यता देने का समय: ट्रम्प

वाशिंगटन , अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने गुरुवार को अपने एक वक्तव्य में कहा कि अब समय आ गया है कि अमेरिका गोलन पहाड़ी क्षेत्र पर इजरायल के प्रभुत्व को मान्यता दे।श्री ट्रम्प ने टि्वटर पर कहा, “ 52 वर्षों के बाद अब समय आ गया है जब अमेरिका गोलन पहाड़ी क्षेत्र पर इजरायल के प्रभुत्व को मान्यता दे, जोकि इजरायल और क्षेत्र की स्थिरता के लिए रणनीतिक और सुरक्षा की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है।”श्री ट्रम्प का यह बयान ऐसे समय में आया है जब अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो येरूशलम में इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू समेत वरिष्ठ नेताओं से बातचीत करने के लिए मौजूद हैं।इजरायली मीडिया ने मामले से संबंधित वरिष्ठ अधिकारियों के हवाले से बताया कि व्हाइट हाउस अगले सप्ताह गोलन पहाड़ी क्षेत्र पर इजरायल के प्रभुत्व को मान्यता देने की औपचारिक घोषणा कर सकता है। उल्लेखनीय है कि 1967 में सीरिया के साथ युद्ध के दौरान इजरायल ने गोलन पहाड़ी क्षेत्र को अपने कब्जे में ले लिया था।इजरायली प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर अमेरिकी राष्ट्रपति का धन्यवाद किया है। श्री नेतन्याहू ने ट्वीट किया, “ ऐसे समय में जब ईरान, इजरायल को बर्बाद करने के लिए सीरिया को एक प्लेटफॉर्म के तौर पर इस्तेमाल कर रहा है, राष्ट्रपति ट्रम्प ने गोलन पहाड़ी क्षेत्र पर इजरायली प्रभुत्व को मान्यता दी है। राष्ट्रपति ट्रम्प का धन्यवाद।”व्हाइट हाउस के मुताबिक श्री ट्रम्प और श्री नेतन्याहू के बीच 25 मार्च को वाशिंगटन में मुलाकात होगी, जिसमें दोनों नेता पश्चिम एशिया को लेकर चर्चा करेंगे। संयुक्त राष्ट्र गोलन पहाड़ी क्षेत्र पर इजरायल के कब्जे को गैरकानूनी मानता है और उसे सीरिया को लौटाने के लिए कहता है।